राजस्व प्रकरण के समाधान में छतरपुर कलेक्टर शीलेंद्र सिंह एमपी में पहले नंबर पर

कलेक्टर शीलेंद्र सिंह मध्य प्रदेश में पहले नंबर पर आए हैं। कलेक्टर कोर्ट से प्रकरणों के निराकरण में प्रदेश में टॉप फाइव में वे प्रथम स्थान पर रहे।

छतरपुर कलेक्टर शीलेंद्र सिंह

छतरपुर, संजय अवस्थी । छतरपुर कलेक्टर अपने तेजतर्रार स्वभाव और ईमानदारी और सक्रियता से काम करने के लिए जाने जाते हैं। वहीं छतरपुर में जब से कलेक्टर शीलेंद्र सिंह की पोस्टिंग हुई है। तब से छतरपुर जिला ना सिर्फ प्रगति की ओर बढ़ा है बल्कि भ्रष्टाचार से लेकर अपराधिक मामलों पर भी नकेल कसी है। इसी क्रम में कोर्ट से प्रकरणों के निराकरण में कलेक्टर शीलेंद्र सिंह मध्य प्रदेश में पहले नंबर पर आए हैं। कलेक्टर कोर्ट से प्रकरणों के निराकरण में प्रदेश में टॉप फाइव में वे प्रथम स्थान पर रहे।

यह भी पढ़ें…Dabra News : आखिर क्यों चांदपुर की महिला बाल विकास की नियुक्ति सवालों के घेरे में, पढ़ें इस खबर में

बतादें कि जुलाई में पंजीकृत प्रकरणों की संख्या 413 रही। जुलाई माह में निराकृत प्रकरणों की संख्या 423 रही। वहीं इस प्रकार जुलाई माह में निराकृत प्रकरणों का प्रतिशत 102 % रहा। कलेक्टर शीलेंद्र सिंह का कहना है कि हमारा उद्देश्य हमेशा राजस्व प्रकरणों में शीघ्र निराकरण का रहा है। हम हमेशा राजस्व प्रकरणों को लेकर अपने एसडीएम से रोजाना वीडियो कॉन्फ्रेंस करते हैं। जिसका परिणाम देखने को मिला है। आज हमारे दो राजनगर और बिजावर सब डिवीजन टॉप फाइव में शामिल हुए। हम उनको और उनके स्टाफ को बधाई देते हैं और आज एक और खुशी की बात है कि कलेक्टर कोर्ट के निराकरण में हम पूरे प्रदेश में पहले नंबर पर आए।

राजस्व प्रकरण के समाधान में छतरपुर कलेक्टर शीलेंद्र सिंह एमपी में पहले नंबर पर