लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, फूड इंस्पेक्टर को 68 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथों पकड़ा

food-inspector-caught-taking-bribe-chatarpur-madhya-pradesh

छतरपुर।

मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले में लोकायुक्त की टीम ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। टीम ने यहां फ़ूड इंस्पेक्टर को 68  हजार की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है।आरोप है कि अधिकारी ने बंधा समिति के सेल्समेन से गेंहू खरीदी में 1 रुपये प्रति क्विंटल को लेकर रिश्वत की मांग की थी। यह कार्रवाई सागर लोकायुक्त द्वारा की गई है।पुलिस ने अधिकारी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

जानकारी के अनुसार, मंगलवार को बड़ा मलहरा खाद्य निरीक्षक सचिन श्रीवास्तव को लोकायुक्त 68 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। सचिन श्रीवास्तव ने बंधा समिति के सेल्समेन अजय पटेरिया से गेंहू खरीदी में 1 रुपये प्रति क्विंटल और शासकीय  उचित मूल्य दुकानों के संचालन में 1 हजार रुपये प्रति माह के हिसाब से पैसा की मांग की थी। इसकी शिकायत अजय ने सागर लोकायुक्त डीएसपी राजेश खेड़े से की। टीम ने मामले को गंभीरता से लिया और प्लानिंग बनाकर सेल्समैन को फ़ूड इंस्पेक्टर को रंगेहाथों पकड़ लिया।

 शिकायतकर्ता अजय पटैरिया बिक्रेता शासकीय उचित मूल्य दुकान बंधा मंगलवार सुबह सुबह 8 बजे के करीब रुपये लेकर पाटन मंदिर स्थित निवास पर गये थे। आरोपी ने रिश्वत के पैसे जैसे ही अपने हांथों में लिए कि 6 सदसीय लोकायुक्त टीम ने उन्हें रंगे हांथों धर लिया। राजेश खेड़े पुलिस उप अधीक्षक लोकायुक्त सागर ने बताया कि रामेश्वर यादव लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में कार्रवाई की गई है।  शिकायतकर्ता अजय पटैरिया ने विगत 31 मई को रिश्वत संबधी शिकायत दर्ज कराई थी। पुष्टि के बाद आज खाद्य निरीक्षक सचिन श्रीवास्तव को 68 हजार रुपये की रिस्वत लेते पकड़ लिया। उन्होंने बताया कि खाद्य निरीक्षक ने कुल 98 हजार रुपये मांगे थे, कुछ रुपए पहले दिए जा चुके थे। आरोपी के विरुद्ध भृष्टाचार अधिनियम की धारा 7 के तहत कार्रवाई कर उसे जमानत पर रिहा कर दिया गया।