कोरोना प्रभारी मंत्री ने किया अस्पताल का निरीक्षण, अव्यवस्था पर जताई नाराजगी

कोरोना प्रभारी प्रद्युम्न सिंह तोमर ने  साफ तौर पर कहा कि किसी भी प्रकार की लापरवाही इस समय बर्दाश्त नहीं की जाएगी उन्होंने कहा कि लोगों के सहयोग से ही हम इस महामारी से लड़ सकते हैं और आमजन का सहयोग ही इस संक्रमण की चेन को तोड़ सकता है।

डबरा, सलिल श्रीवास्तव। ग्वालियर जिले में संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए ग्वालियर में व्यवस्थाएं बनाने में और खुद सेनेटाइजेशन करने में जुटे प्रदेश के ऊर्जा मंत्री एवं ग्वालियर जिले के कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) शनिवार को डबरा पहुंचे।  उन्होंने डबरा सिविल हॉस्पिटल (Civil Hospital) का जायजा लिया और अनियमितताएं पर नाराजगी जताते हुए व्यवस्थाओं को जल्द सुधारने के निर्देश दिए। कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने अपने हाथों से नगर में सेनेटाइजेशन भी किया।

ग्वालियर जिले के कोरोना प्रभारी प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) कोरोना काल में पहली बार शहर के बाहर निकले वे शनिवार को डबरा पहुंचे उन्होंने वहां सिविल हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। मंत्री को जब मालूम चला कि सिविल हॉस्पिटल में जांच की मशीनें भी ख़राब हैं , एक्सरे मशीन नहीं है इस बात को सुनकर कोरोना प्रभारी मंत्री  ने बीएमओ को जमकर फटकार लगाई और जल्द से जल्द व्यवस्था को सुधारने के निर्देश दिए।

ये भी पढ़ें – कोविड केयर सेंटर में योग के जरिये बढ़ा रहे कोरोना मरीजों में सकारात्मक ऊर्जा

जब स्थानीय लोगों ने और मीडिया ने डबरा नगर में सेनेटाइजेशन की शिकायत की तो कोरोना प्रभारी प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) ने नगर पालिका के अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई और मौके पर सेनेटाइजेशन मशीन मंगवा कर खुद ही सिविल हॉस्पिटल के आसपास के क्षेत्र को सेनेटाइज किया और नगर के सभी मोहल्लों को सेनेटाइज करने के निर्देश दिए।

कोरोना प्रभारी मंत्री ने किया अस्पताल का निरीक्षण, अव्यवस्था पर जताई नाराजगी

कोरोना प्रभारी प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) ने एसडीएम को निर्देशित करते हुए कहा कि जो भी जो गरीबी रेखा से नीचे वाले हैं उन लोगों को पात्रता पर्ची के आधार पर राशन वितरित करवाया जाए और आयुष्मान कार्ड से वंचित रहे लोगों को भी इसमें जोड़ा जाए जिससे इस महामारी के दौर में लोगों का निशुल्क उपचार हो सके।  मंत्री के पास आउटसोर्स कर्मचारी पहुंचे जो काफी समय से वेतन न मिलने से परेशान थे इसके लिए मंत्री ने तत्काल सीएमएचओ से बात कर उनका वेतन भुगतान कराने की व्यवस्था की। वही ग्वालियर आने जाने वाले कर्मचारियों को अप डाउन के लिए परेशान ना होना पड़े इस पर भी व्यवस्थाएं बनाने के निर्देश स्थानीय अधिकारियों को दिए।

ये भी पढ़ें – देखिये लंगूर की अनोखी कैटवॉक, ठुमक ठुमककर किया पुल पार

पत्रकारों के सवालों के जवाब दते हुए कोरोना प्रभारी प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) ने  साफ तौर पर कहा कि किसी भी प्रकार की लापरवाही इस समय बर्दाश्त नहीं की जाएगी उन्होंने कहा कि लोगों के सहयोग से ही हम इस महामारी से लड़ सकते हैं और आमजन का सहयोग ही इस संक्रमण की चेन को तोड़ सकता है।  डबरा में आरटीपीसीआर जांच ना होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि शीघ्र ही डबरा में जांच शुरू करा दी जाएगी।  कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar)  डबरा से भितरवार पहुँचे जहाँ उन्होंने अस्पताल की व्यवस्थाओं का जायज़ा लिया और व्यवस्थाएं ठीक रखने के निर्देश दिए।