दमोह : खनिज विभाग की कार्यवाही सवालों के घेरे में, जानें कैसे

खनिज विभाग की टीम ने ट्रेक्टर ट्राली में मकान का मलबा पकड़ा

दमोह,आशीष कुमार जैन। मध्यप्रदेश के दमोह से खनिज विभाग की एक कार्रवाई सामने निकल कर आ रही हैं, जहाँ खनिज विभाग की टीम ने ट्रेक्टर ट्राली में मकान का मलबा पकड़ा हैं, जब इस मामले की बात अधिकारियों से की तब वह कैमरे के सामने भी कुछ भी कहने से बच रहे थे।

यह भी पढ़े…फर्जी दस्तावेजों से जमानत दिलवाने वाले रैकेट का पर्दाफाश, 70 वर्षीय आरोपी निकला मास्टर माइंड

हम आपको बता दें कि खनिज इंस्पेक्टर के द्वारा एक ऐसे ट्रैक्टर को पकड़कर के खनिज विभाग कार्यालय के पास रखवाया गया है जिसमें कोई खनिज पदार्थ नहीं बल्कि मकान का मलबा है। जब हमने उनसे पूछा तो उनका कहना था कि इस मामले पर जांच की जा रही है। वहीं उनके सीनियर अफसर से पूछा गया तब उनका कहना है कि उन्हें इस मामले की जानकारी नहीं है। लेकिन मकान का मलबा कहीं से भी खनिज पदार्थ नहीं हो सकता। लेकिन खनिज इंस्पेक्टर के द्वारा की गई इस कार्रवाई से मकान का मलवा ट्रैक्टर से ले जा रहे ट्रैक्टर मालिक और ड्राइवर सकते में है। और उनका यही मानना है कि मकान का मलबा भी अब खनिज विभाग द्वारा पकड़ा जा रहा है क्या उन्हें परेशान किया जा रहा है। ऐसे में सवाल यह भी है कि खनिज विभाग जहां खनिज पदार्थों की तस्करी एवं अवैध रूप से उत्खनन करने के मामले में चुप्पी साध लेता है। तो वहीं आज मकान का मलवा ले जा रहे ट्रैक्टर मालिक पर कार्रवाई कर रहा है।

यह भी पढ़े…पंजाब के किसान आंदोलन का असर मध्यप्रदेश की ट्रेनों पर भी, 6 ट्रेने निरस्त

सुनीत राजपूत खनिज इंस्पेक्टर ने कहा कि इस मामले पर जांच की जा रही है, जब उनसे पूछा गया कि ट्रेक्टर को जप्त किया तब उन्होंने कहा कि जप्ती वाली कोई भी कार्रवाई नहीं की।

मेजर सिंह जामरा खनिज अधिकारी ने कहा कि यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं हैं, इसकी जानकारी खनिज इंस्पेक्टर को होगी, अगर वह मकान का मलवा है तो वह मध्यप्रदेश कॉन्क्रीट नियम के तहत नहीं आता हैं।