दमोह के दामाद थे अजित जोगी, उनके निधन से शहर में शोक की लहर

दमोह/गणेश अग्रवाल

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी के निधन से दमोह में शोक की लहर है। दमोह जोगी की ससुराल है और इस लिहाज से वो यहां से बेहद करीब से जुड़े रहे हैं। उनके साले स्वर्गीय रत्नेश सालोमन दिग्विजय सरकार में मंत्री रहे हैं तो उनके भतीजे और भतीजी आज भी इलाके में राजनीतिक रूप से सक्रिय हैं। जैसे ही जोगी के निधन का समाचार मिला परिवार में शोक की लहर छा गई। पूर्व मंत्री सालोमन के बेटे और बेटी के पास लोगों ने पहुंचकर संवेदनाएं जाहिर की। दमोह जिले के जबेरा से विधानसभा की प्रत्याशी रही तान्या सालोमन ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि परिवार ने अपना मुखिया खोया है वहीं उनके भतीजे आदित्य सालोमन ने कहा कि उनकी कमी को कभी पूरा नही किया जा सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here