Damoh News: दाने-दाने को मोहताज शिक्षा विभाग के कर्मचारी, ऑफिस के बाहर बैठकर पूछ रहे कैसे मनाएं दीवाली

शिक्षा विभाग (Education Department) के कर्मचारी अपने और अपने परिवार की भूंख मिटाने के लिए अफसरों से गुहार लगा रहे हैं।

दमोह,आशीष कुमार जैन। एक तरफ जहां देश भर में दीवाली (Diwali 2021) की तैयारियां जोरों पर है। वहीं हज़ारों ऐसे परिवार हैं जहां दीवाली की जगमग तो दूर लोग दाने-दाने को मोहताज हैं। कुछ ऐसी ही तस्वीर दमोह (Damoh) से सामने आई हैं जहां त्योहार की खुशियों से दूर शिक्षा विभाग (Education Department) के कर्मचारी अपने और अपने परिवार की भूंख मिटाने के लिए अफसरों से गुहार लगा रहे हैं।

यह भी पढ़ें…Virat Kohli की कैप्टंसी पर खतरा, रोहित शर्मा कर सकते हैं मेजबानी

दरअसल ये लोग शिक्षा विभाग के अंशकालीन लिपिक (Part Time Clerk) और भृत्य (Pay) हैं। जिन्हें पिछले छह महीनों से वेतन नहीं मिला है और अब इनकी हालात दयनीय हो गई है। पांच से छै हजार महीने तन्ख्वाय पाने वाले इन अंशकालीन कर्मचारियों के सामने संकट खड़ा हो गया है। अपनी पीड़ा को लेकर अब ये कर्मचारी रोजाना जिला शिक्षा अधिकारी के दफ्तर के बाहर डेरा डाल लेते हैं और बस एक ही मांग कर रहे हैं की उन्हें वेतन दिया जाए।

दूसरी तरफ दमोह के जिला शिक्षा अधिकारी एस के मिश्रा ने हालातों को साफ करते हुए बताया है कि सरकार इन कर्मचारियों को बाहर निकालने का निर्णय ले चुकी थी जिस वजह से प्रदेश भर में इनकी तनख्वाह का आवंटन नहीं हुआ है लेकिन कुछ दिनों पहले सरकार ने प्रदेश भर के इन कर्मचारियों को फिर से रखने का निर्णय लिया है और जल्दी ही इन्हें सैलरी भी मिल जाएगी वहीं जिले के प्रभारी मंत्री गोविंद राजपूत के मुताबिक उनके संज्ञान में ये मामला अब आया है और इसका जल्द निराकरण करने का आश्वासन दिया है।

यह भी पढ़ें… “अबकी बार दीवाली, केवल मिट्टी के दिये वाली”, अशोकनगर विधायक ने दिया “वोकल फॉर लोकल” का संदेश