मंत्री प्रहलाद पटेल और गोविंद राजपूत ने खरीदे गोबर से बने दीए, वोकल फॉर लोकल को बढ़ावा देने की अपील की

मंत्री पटेल ने लोगों से भारत को आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए वोकल फॉर लोकल (Vocal for Local) को बढ़ावा देने की अपील भी की।

दमोह, आशीष कुमार जैन। मध्य प्रदेश (MP) के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत (Minister Govind Rajput) और केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल (Union Minister Prahlad Patel) ने वोकल फॉर लोकल को बढ़ावा देते हुए दमोह जिले (Damoh District) के टिंडोनी गांव में मिट्टी से बने हुए दिए खरीदे। इस मौके पर मंत्री पटेल ने लोगों से भारत को आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए वोकल फॉर लोकल (Vocal for Local) को बढ़ावा देने की अपील भी की।

यह भी पढ़ें…MP के उपचुनाव में बीजेपी की जीत है तय- गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा

जिन महिलाओं द्वारा इन दीयों को बनाया गया उनकी तारीफ करते हुए मंत्री पटेल ने कहा कि महिलाओं ने आत्मनिर्भर बनने की तरफ तो कदम बढ़ाया ही है साथ ही पर्यावरण संरक्षण की दिशा में भी बड़ा योगदान दिया है जो कि देश के लिए नजीर है बता दें कि अपने स्टाल पर केंद्रीय मंत्री और प्रदेश सरकार के मंत्री को देखकर महिलाओं की खुशी का ठिकाना नहीं था। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने बताया कि दिया पर्यावरण को ध्यान में रखकर बनाया गया है। दीपक को महिलाओं द्वारा गोबर से बनाया गया है। यह दीपक जलाते समय नहीं जलेगा और पानी में डालते ही 20 मिनट में मिट्टी में मिल जाएगा।

दमोह सरपंच सोमेश गुप्ता ने बताया कि हमारे गांव की सह सहायता समूह की महिलाओं द्वारा गोबर से दीपक को का निर्माण किया गया है केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल और परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत द्वारा 500 पैकेट्स खरीदे गए हैं। मंत्रियों द्वारा खरीदे गए दीपक उनसे महिलाओं में खुशी है और उन्हें प्रोत्साहन मिला है कि इस छोटे से प्रयास के लिए मंत्री उनका सहयोग दे रहे।

स्वसहायता समूहों को महिलाओं को केंद्र सरकार करेगी मदद – केंद्रीय मंत्री पटेल

दमोह के मानस भवन में आयोजित आजीविका मिशन के कार्यक्रम को सम्बोधित केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण एवं जलशक्ति राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल ने कहा कि मध्य प्रदेश सहित देश के विभिन्न प्रदेशों में चल रह महिलाओं के स्व सहायता समूहों को केंद्र सरकार का खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय ना सिर्फ मदद करेगा, बल्कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में आर्थिक सहयोग भी करेगा। राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्व सहायता समूहों को बैंक ऋण वितरण समारोह के दौरान मंत्री पटेल ने उपस्थित महिलाओं को बताया कि उनके द्वारा तैयार किये जा रहे खाद्य उत्पादनो को केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण विभाग भी मान्यता देता है और वो इस विभाग के माध्यम से भी अपने उत्पाद दुसरे राज्यों तक भेज सकते है इतना ही नहीं ऐसे समूहों को बैंक ऋण की मदद के साथ सब्सिडी भी केंद्र सरकार दे रही है।

इस मौके पर जिले के प्रभारी और प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द राजपूत ने महिलों को जानकारी देते हुए बताया की राज्य सरकार ने एक बार फिर स्कूलों में बांटा जाने वाला मिड डे मील स्व सहायता समूहों को दिया है जिसका निर्णय केबिनेट की बैठक में हो गया है।

यह भी पढ़ें…सागर लोकायुक्त की कार्रवाई, दमोह में 50 हजार की रिश्वत लेते पकड़ाया जनपद पंचायत का सब इंजीनियर