रोको-टोको अभियान में चला पुलिस का डंडा, लोगों में नाराजगी

दतिया जिले के सेवढ़ा में रोको टोको अभियान की आड़ में पुलिस प्रशासन लोगों पर डंडे बरसा रहा है। जिससे शहर के लोगों में काफी नाराजगी है।

सेवढ़ा, राहुल ठाकुर। मध्यप्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण (Covid-19) की रोकथाम के लिए सरकार और प्रशासन द्वारा लगातार कार्य किए जा रहे हैं। जहां प्रदेश भर के जिलों में लगे कोरोना कर्फ्यू के दौरान रोको-टोको अभियान चलाया जा रहा है। इस दौरान पुलिस द्वारा मास्क बांटकर लोगो को समझाइश दी जा रही है तो कहीं पुलिस हाथ जोड़कर लोगों से घर में रहने की अपील कर रही है। वहीं दतिया जिले के सेवढ़ा में इन सबके पर पुलिस बिना कारण पूछे ही लोगों पर डंडे बरसा रही है।

यह भी पढ़ें:-खबर का असर: रतलाम के मेडिकल कॉलेज की डीन को हटाया, इन्हें मिली जिम्मेदारी

सेवढ़ा में रोको टोको अभियान का स्वरूप ही स्थानीय प्रशासन के द्वारा बदलकर कर रख दिया है प्रशासन के इस सख्त रवैये से जब तक लोग रोको टोको अभियान में तैनात कर्मचारियों से घूमने का कारण बता सके इसके पहले ही डंडों की बौछार होने लगती है। सेवढ़ा नगर के बस स्टैंड्, हनुमान चौराहा व सदर बाजार में यह डंडों की बौछार देखने को मिल सकती है। रविवार की देर शाम तक एसडीएम अनुराग निंगवाल के मार्गदर्शन में चला रोको टोको अभियान, रोको ठोको अभियान में तब्दील हो गया।

यह भी पढ़ें:-शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों को लेकर दतिया कलेक्टर ने जारी किया यह आदेश

अभियान का प्रारम्भ सेवढ़ा बस स्टैंड से प्रारंभ किया गया जो सदर बाजार होते हुए डंडों की बरसात करते हुए मंडी परिसर तक पहुंचा। वहां पर एकत्रित होकर क्रिकेट खेल रहे खिलाड़ियों को टीम के द्वारा खदेड़ा गया जो आनन फानन में खिलाड़ी गिरते भागते नजर आए। इसी क्रम में अभियान मंडी परिसर से संकुआ धाम पहुंचा। जहां पर लोगों को अभियान के द्वारा बरसाए गए डंडों का सामना करना पड़ा। इस तरह अभियान की आड़ में पुलिस प्रशासन द्वारा अमानवीय व्यवहार किया जा रहा है। जिससे शहर के लोगों में काफी नाराजगी है।