देवास। मध्य प्रदेश में भाजपा और कांग्रेस में जमकर सियासी जंग छिड़ गई है। सोमवार को किसानों को न्याया दिलाने के लिए भाजपा ने कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदेशव्यापी विरोध प्रदर्शन किया। उधर दोनों पार्टी के दिग्गज नेताओं में जुबानी जंग भी चल रही है। पहले देवास से भाजपा सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी ने कैबिनेट मंत्री के बारे में बयानबाज़ी की। अब मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने पलटवार करते हुए उन्हें ‘मूर्ख’ कह दिया। 

दरअसल, कैबिनेट मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने भाजपा सांसद पर पलटवार करते हुए कहा कि, ‘ विद्वानों ने कहा है मूर्खों के सम्मुख अच्छे लोग चुप रहते हैं। मूर्खों से सम्भाषण अच्छे लोगों का काम नहीं।’ वहीं, उनके प्रतिनिधि मनोज राजानी ने भी विवादित बयान दिया। उन्होंने कहा कि सांसद का मानसिक संतुलन बिगड़ चुका है। इसलिए उनको पागलखाने भेजना चाहिए। उन्होंंने कहा कि, पीएम नरेन्द्र मोदी नही करवा सकते इलाज तो हमसे कहें, हम कमलनाथ जी से कहकर फंड की व्यवस्था करवा देंगे।  सांसद अभी नौसिखिए हैं तो लट्ठ खाना बाकी है। लट्ठ खायेंगे तब नेता बनेंगे।

गौरतलब है कि बीजेपी सांसद महेंद्र सोलंकी सहित अन्य पर मामला दर्ज किय गया है। यह मामला पुलिस चौकी की दीवार तोड़ने के मामले में दर्ज किया गया है। भाजपा सांसद महेंद्र सोलंकी पर सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज हुआ है। ये वही सांसद हैं, जिन्हें बीजेपी ने देवास से टिकट दिया था. और टिकट मिलने के बाद जब इन्हें पहला भाषण देना था, तो ये भावुक हो गए थे. सांसद बनने से पहले महेंद्र सिंह सोलंकी भोपाल में सिविल जज थे, जो नौकरी उन्होंने छोड़ दी थी।