सोशल डिस्टेंस का पालन कर हुआ विवाह, डंडे से पहनाई वरमाला, डंडे से ही भरी मांग

धार/राजेश डाबी

लॉकडाउन (lockdown) के चलते देशभर में कई चीजे स्थगित हो रही है जिनमें कई लोगों की शादी (marriage) भी है। सोशल डिस्टेंस (social distance) और अन्य नियमों के कारण लोग पहले से तय विवाह कार्यक्रम आगे बढ़ा रहे हैं, लेकिन धार में इसी लॉकडाउन के दौरान एक शादी हुई जहां सारे नियमों का पालन भी किया गया।

धरमपुरी में इलेक्ट्रिकल इंजीनियर अमूल राठौड़ एवं शिक्षिका कीर्ति राठौड़ सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो करते हुए परिणय सूत्र में बंध गए । शादी के लिए दूल्हा मात्र तीन लोगों की बारात लेकर पहुंचा, वही वधु पक्ष की ओर से भी चार लोग ही सादगी से हुई इस शादी (marriage) के गवाह बने। बता दें की शिक्षिका कीर्ति राठौड़ का रिश्ता खरगोन जिले के सेगावा निवासी अमूल राठौड़ के साथ तय हुआ था, विवाह के लिए 4 मई की तारीख तय की गई थी और दोनों पक्षों की ओर से विवाह को लेकर सभी तैयारियां लगभग पूर्ण कर ली गई थी। लेकिन लॉकडाउन के चलते विवाह करना मुश्किल लग रहा था। इसे देखते हुए दोनों पक्षों ने कोरोना (corona) महामारी में सादगी से विवाह करने का फैसला लिया। लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए इन्होने प्लास्टिक की 1 फिट लंबे डंडे का प्रयोग कर एक दूसरे को वरमाला पहनाई, वही फेरे लेने के दौरान इस डंडे से ही दूल्हे ने दुल्हन की मांग भरी गई व मास्क लगाकर विवाह की रस्में पूरी की। दूल्हे अमूल राठौड़ ने बताया कि शादी को लेकर प्रशासन से परमिशन ली गई थी और सरकारी गाइडलाइंस के अनुसार ही सभी रस्मों को निभाया गया है।

सोशल डिस्टेंस का पालन कर हुआ विवाह, डंडे से पहनाई वरमाला, डंडे से ही भरी मांग