Guna News : रेत से भरी ट्रॉली पलटी, दो बच्चों की दबने से हुई मौत

हादसे की जानकारी मिलने पर मध्यप्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री मौके पर पहुंचे गए।

गुना, संदीप दीक्षित। गुना (guna) जिले के बमौरी ब्लॉक में शुक्रवार दोपहर लगभग डेढ़ बजे हुए हृदय विदारक हादसे में दो बच्चों की मौत हो गई। हादसा रेत से भरी ट्रॉली पलटने के दौरान हुआ। दोनों ही बच्चे 11 से 12 वर्ष की आयु के थे और शुरुआती जानकारी के मुताबिक उत्साह के चलते ट्रैक्टर-ट्रॉली में बैठकर घर जा रहे थे। हादसे की जानकारी मिलने पर मध्यप्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री मौके पर पहुंचे गए। जिन्होंने पीडि़त परिजनों को ढांढस बंधाया।

यह भी पढ़े…मुकेश अंबानी ने एक बार फिर संभाली अमीरी की कुर्सी, जाने कौन है दूसरे नंबर पर

बताया गया कि भूरा चक गांव का रहने वाला भागीरथ लोधा सिलावटी-श्यामपुर की नदी से रेत भरकर ला रहा था। उसके साथ भूराचक गांव के ही 11 वर्षीय चिन्टू लोधा, 12 वर्षीय अजय ओडिय़ा मौजूद थे। दोनों बच्चे रेत भरने के बाद ट्रॉली में बैठ गए। ट्रैक्टर जैसे ही सिमरौद से कुछ दूरी पर आगे निकला तो अनियंत्रित होकर पलट गया। हादसे की जानकारी मिलने पर दोनों ओर से ग्रामीणों का हुजूम लग गया। लेकिन दुर्घटना होते ही भागीरथ लोधा मौके से फरार हो गया।

Guna News : रेत से भरी ट्रॉली पलटी, दो बच्चों की दबने से हुई मौत

यह भी पढ़े…कैंप में मिले नजर के चश्मे ने बढ़ाई आंखों की रोशनी, हंसते हुए रवाना हो गए ट्रक ड्राइवर

इसी दौरान क्षेत्र में भ्रमण के लिए पहुंचे पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री ने भी घटनास्थल का रुख किया। उन्होंने पुलिस व स्वास्थ्य अमले को निर्देशित देते हुए दोनों बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। बच्चों के परिजन भी कुछ ही देर में बमौरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंच, जहां महिलाओं का रूदन मौजूद लोगों के कलेजे को छलनी कर रहा था। आशंका जताई जा रही है कि ट्रैक्टर चालक रेत का अवैध उत्खनन व परिवहन करता था और उसे खाली कराने के लिए बच्चों को ले जाता था। ताकि मजदूरी के पैसे भी कम देना पड़ा। खनिज विभाग और पुलिस दोनों ही विभाग इस मामले में जांच करेंगे। फिलहाल पोस्टमार्टम कराकर बच्चों के शव परिजनों को सौंप दिए। हादसे की सूचना मिलने पर भूरा चक गांव में मातम पसर गया है।