कभी यहाँ से चलती थी BJP की सियासत, अब फहरेगा कांग्रेसी परचम 

Bungalow-No--38-alloted-to-the-congress-minister

ग्वालियर।  भारतीय जनता पार्टी ने अपने 15 साल के शासन के दौरान रेसकोर्स स्थित जिस बंगला नंबर 38 को संभागीय मुख्यालय बना रखा था वहां अब कांग्रेस का तिरंगा फहरेगा। प्रशासन ने इसे प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को अलॉट कर दिया है। अपने शासनकाल में पार्टी ने इस बंगले को बड़े नेताओं के नाम पर अलॉट कर दिया और इसको संभागीय संगठन मंत्री का आवास बना दिया।  

38 नंबर बंगले को भारतीय जनता पार्टी की सरकार में सबसे पहले उमा भारती सरकार में पंचायत मंत्री रहे नरेंद्र सिंह तोमर के नाम पर अलॉट किया गया, माया सिंह और सांसद अनूप मिश्रा के नाम पर   अलॉट कर दिया गया।  हालाँकि इसमें ना तो कभी नरेंद्र सिंह तोमर रहे , ना ही माया सिंह और ना ही अनूप मिश्रा।  पार्टी ने इसे भाजपा के संभागीय संगठन मंत्री का निवास बना दिया।  शुरू में कभी कभी बैठकें हो जाती थी बाद में भाजपा के सभी दांवपेंच नियमित रूप से यही तय किये जाने लगे और महाराज बाड़े पर बना भाजपा मुख्यालय मुखर्जी भवन बेरौनक हो  गया। 

पिछले दिनों विधानसभा चुनाव में शासन ने पार्टी से इस बंगले को खाली करवा लिया।  और कांग्रेस की सरकार बनने के  बाद इसे खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को पिछले दिनों अलॉट कर दिया।  राजनितिक उलटफेर के चलते जहाँ कभी भाजपा की राजनीति के सियासती दानवोइच तय होते थे वहां आज कांग्रेसी परचम फहरेगा। भाजपा जिला अध्यक्ष देवेश शर्मा हालाँकि इसे एक व्यवस्था  हैं लेकिन जिस बंगले में 15  साल की यादें जुड़ीं हों, यहाँ पार्टी बड़े कार्यकर्ता आये, जहाँ की दीवारें भाजपा की विचारधारा  की लम्बे  समय तक साक्षी बनी हो उस बंगले को छोड़ते समय थोड़ा  बहुत रंज तो होगा ही। ग्वालियर  भाजपा के बहुत से नेताओं में इन दिनों ये देखा जा सकता है।  उधर अब एक बार फिर महाराज बाड़े के पास स्थित भाजपा मुख्यालय मुखर्जी भवन की रौनक जल्दी ही वापस लौटेगी, इसके प्रयास जारी है।