Gwalior में बेख़ौफ़ बदमाश, 24 घंटे में दूसरी हत्या, आरोपी फरार, पुलिस की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में

उम्मीद है इन दो हत्या के आरोपी भी जल्दी गिरफ्तार होंगे, लेकिन बढती घटनाएँ इतना तो बता रही हैं कि बदमाशों को ग्वालियर पुलिस का भय बिलकुल नहीं है।   

Atul Saxena
Published on -
Gwalior murder

Gwalior News : ग्वालियर में 24 घंटे के अन्तराल में दूसरा शव मिलने से लोग पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठा रहे हैं, कल गुरुवार को सिरोल थाना क्षेत्र में एक व्यक्ति की सिर में चोट पहुंचाकर हत्या की गई थी और आज फिर एक शव मिला, आज माधौगंज थाना क्षेत्र में युवक की सिर में गोली मारकर हत्या कर दी गई, दोनों ही घटनाओं के आरोपी अभी फरार हैं, पुलिस इनकी तलाश कर रही है।

माधौगंज थाना क्षेत्र में मिला युवक का शव, गोली मारकर हत्या  

ग्वालियर के माधौगंज थाना क्षेत्र के पान पत्ते की गोठ में आज सुबह अज्ञात शव देखकर मोहल्ले के लोग सन्न रह गए , लोगों ने तत्काल पुलिस को सूचना दी, पुलिस ने जब शव की पड़ताल की तो उसके सिर में गोली लगने का निशान दिखाई दिया, जिससे समझ आ रहा है कि किसी ने गोली मारकर हत्या की है हालंकि पुलिस को घटना स्थल के पास न तो हथियार मिला और ना ही खली खोका मिला है, पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

एसपी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी पहुंचे घटनास्थल पर 

घटना की सूचना पर एसपी धर्मवीर सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे, फोरेंसिक एक्सपर्ट ने भी घटना स्थल पर शव की जाँच की, वहीं सीएसपी आयुष गुप्ता ने बताया कि मृतक का नाम मंथन छारी है, उम्र 28 साल है मृतक गुढा क्षेत्र में रहता था और इसका एक मकान पान पत्ते की गोठ में तभी था, उन्होंने कहा कि किसने हत्या की?क्यों हत्या की? ये जाँच का विषय है , पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है।

कल सिरोल थाना क्षेत्र में मिला था एक शव 

आपको बता दें कि कल गुरुवार को सिरोल थाना क्षेत्र में भी एक शव पुलिस को मिला था, लोगों ने वीरपुर डेम के पास  झाड़ियों में एक युवक की खून से सनी हुई लाश देखी और फिर पुलिस को सूचना दी, मौके पर पहुंची पुलिस ने जाँच की तो मालूम चला कि युवक की हत्या की गई है,मृतक के हाथ पर पंकज राज लिखा हुआ है, संभवतः ये मृतक का नाम ही है।

सिर पर वार कर की गई थी हत्या 

सिरोल थाना टीआई प्रीति भार्गव के मुताबिक मृतक जनकगंज थाना क्षेत्र के गोला पहाड़िया इलाके का रहने वाला था लेकिन वो यहाँ कैसे पहुंचा और उसके सिर पर किसने वार किया, क्यों किया ये सब जाँच की जा रही है, पुलिस को शव के पास खून से सना डंडा और पत्थर मिला है जिसे फोरेंसिक टीम जाँच के लिए ले गई।

दोनों ही घटनाओं के आरोपी फरार, पुलिस की कार्यप्रणाली पर उठ रहे सवाल 

बहरहाल 24 घंटे में दूसरी हत्या से पुलिस की कार्यप्रणाली पर लोग सवाल कर रहे हैं, आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों में तीन चार हत्या की वारदातें सामने आ चुकी हैं लेकिन अच्छी बात ये ही कि पुलिस ने इनके आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार कर लिया, उम्मीद है इन दो हत्या के आरोपी भी जल्दी गिरफ्तार होंगे, लेकिन बढती घटनाएँ इतना तो बता रही हैं कि बदमाशों को ग्वालियर पुलिस का भय बिलकुल नहीं है।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News