Flying Officer ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, Gwalior में ट्रेनिंग पर थे

फ्लाइंग ऑफिसर के शव और घटना स्थल की पुलिस ने जाँच की, एफएसएल टीम को बुलाया गया, कमरे से एक डायरी मिली है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। एयरफोर्स के एक फ्लाइंग ऑफिसर (Flying Officer) ने अपने हॉस्टल के कमरे में पंखे से लटककर फांसी लगा (flying officer suicide) ली और अपनी जान दे दी। सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने शव को कस्टडी में लेकर FSL टीम के साथ शव की शिनाख्त की और कमरे की तलाशी ली। पुलिस को मृतक के कान में ईयर प्लग लगे हुए मिले हैं जिससे सम्भावना जताई जा रही है कि किसी से बात करते हुए ऑफिसर ने फांसी लगाई है।

एडिशनल एसपी राजेश दंडोतिया ने बताया कि गोले का मंदिर थाना क्षेत्र में एयरफोर्स की मैस में बने हॉस्टल में रहने वाले फ्लाइंग ऑफिसर ने फांसी लगा ली। मृतक ऑफिसर भावनगर गुजरात के रहने वाले थे। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची।

ये भी पढ़ें – UGC की नई गाइडलाइन, PhD प्रवेश को लेकर बदले नियम, उम्मीदवारों के लिए जानना आवश्यक

फ्लाइंग ऑफिसर के शव और घटना स्थल की पुलिस ने जाँच की, एफएसएल टीम को बुलाया गया, कमरे से एक डायरी मिली है। फ्लाइंग ऑफिसर 2 साल से एयरफोर्स में थे, जनवरी से ग्वालियर में ट्रेनिंग पर थे उनकी ड्यूटी सुबह 6 बजे रहती थी, शव यूनिफॉर्म में मिला है और कान में मोबाइल का ईयर प्लग लगे मिले हैं जिससे आशंका जताई जा रही है कि उन्होंने ड्यूटी जाते समय सुबह किसी से बात करते हुए फांसी लगाई है।

ये भी पढ़ें – केंद्रीय मंत्री तोमर के बंगले पर दावेदारों की भीड़, Gwalior महापौर पद के प्रत्याशी पर फंसा पेंच

एडिशनल एसपी ने बताया कि मृतक फ्लाइंग ऑफिसर के परिजनों को सूचना दे दी गई है, वे गुजरात से चल दिए हैं, पुलिस ने शव को कस्टडी में लेकर उसे पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है और प्रकरण को जाँच में ले लिया है।