Gwalior News : पुलिस के साथ मारपीट करने वाला शातिर बदमाश, साथी सहित गिरफ्तार, पुलिस ने निकला जुलूस, कई थानों में दर्ज हैं अपराध

Atul Saxena
Published on -
Gwalior News

Gwalior News :  ग्वालियर की कम्पू थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच थाना पुलिस ने एक ऐसे शातिर बदमाश को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है जिसने पिछले दिनों पुलिस कर्मियों के साथ सरे राह मारपीट की थी, ये बदमाश सट्टे के अवैध कारोबार से भी जुड़ा है, इसने अपने घर पर रॉटविलर नस्ल के खतरनाक कुत्ते भी पाल रखे है और जब भी पुलिस पकड़ने जाती वो कुत्तों को छोड़ देता था।

पुलिस पर हमला करने वाला बदमाश गिरफ्तार  

पुलिस ने फरार शातिर बदमाश रौनक बाथम को उसके एक साथी अमन शर्मा के साथ गिरफ्तार किया है, रौनक की तलाश पुलिस कई दिनों स एकर रही थी, इसने अपने साथियों के साथ मिलकर कुछ महीने पहले अचलेश्वर मंदिर के पास ट्रैफिक पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट की थी जिसका वीडियो भी वायरल हुआ था, घटना के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया था और तभी से ये फरार चल रहा था, पुलिस ने इसपर इनाम घोषित किया था।

अलग अलग थानों में दर्ज है कई अपराध 

डीएसपी अशोक जादौन ने बताया कि आरोपी की तलाश की जा रही थी आज पता चला कि बदमाश रौनक बाथम अपने साथी के साथ कैंसर पहाड़िया पर अवैध शराब बेचने आया है, पुलिस ने घेराबंदी कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया , गिरफ़्तारी के समय दोनों के पास से अवैध जहरीली शराब बरामद की गई जिस मामले में अलग से अपराध दर्ज किया गया, पुलिस ने बताया कि रौनक बाथम पर अलग अलग थानों में करीब 12 अपराध दर्ज हैं।

पुलिस ने दोनों बदमाशों का निकाला जुलूस 

गिरफ़्तारी के बाद आज पुलिस ने दोनों आरोपियों का जुलूस निकाला हालाँकि पुलिस ने जुलूस निकालने से इंकार किया उसने कहा कि वो घटनास्थल की तस्दीक के लिए ले गई थी, पुलिस ने ये भी बताया कि आरोपी सट्टे के अवैध कारोबार से भी जुड़ा है, उसने अपने घर पर खतरनाक नस्ल के  रॉटविलर कुत्ते पाल रखे थे, जब उसे पुलिस पकड़ने जाती थी तो छोड़ देता था, पुलिस की शिकायत के बाद नगर निगम ने कुत्तों को पकड़ लिया है।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News