प्रेम कहानी का अंत, प्रेमिका की हत्या करने के बाद प्रेमी ने खुद को गोली मारी, शव के पास मिला देसी कट्टा

शव के पास उसकी मोटर साईकिल, और देसी कट्टा मिला। पुलिस ने जब मृतक की जेब की तलाशी ली तो उसकी जेब से एक देसी पिस्टल और 8 जिन्दा राउंड मिले।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। साथ जीने मरने की कसम खाने वाले प्रेमी प्रेमिका की कहानी का अंत हो गया। पुलिस ने  आज सुबह प्रेमी का खून से सना शव (Lover Committed Suicide) खुले मैदान में बरामद किया। शव के पास एक देसी कट्टा मिला और मृतक की जेब से एक देसी पिस्टल और 8 जिन्दा राउंड मिले हैं जो पिस्टल और कट्टे के हैं। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है, उधर मृतक के भाई ने लड़की के माता पिता पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

मुरार थाना क्षेत्र में 6 नंबर चौराहे के पास बैजल कोठी क्षेत्र में सोमवार की रात साक्षी गुप्ता नामक युवती की हत्या (Girlfriend Murder) के बाद गिर्राज कटारे नामक युवक को तलाश रही पुलिस को आज मंगलवार सुबह उसका शव गोले का मंदिर क्षेत्र में एक खुले मैदान में मिला।

ये भी पढ़ें – ट्विटर डील पर घमासान जारी, आमने-सामने आए एलन मस्क और सीईओ पराग अग्रवाल

मौके पर पहुंची पुलिस को मृतक का शव खून (Lover’s Body Found) से सना मिला, उसके शव के पास उसकी मोटर साईकिल, और देसी कट्टा मिला। पुलिस ने जब मृतक की जेब की तलाशी ली तो उसकी जेब से एक देसी पिस्टल और 8 जिन्दा राउंड मिले।  सीएसपी मुरार ऋषिकेश मीणा (IPS) ने बताया कि मामला प्रेम प्रसंग का है, लड़की की हत्या के बाद जिस संदिग्ध को तलाश रहे थे उसका ही शव मिला है। पुलिस मामले की जाँच कर रही है। मृतक किसी सेठ की गाड़ी चलाता था।

उधर मृतक के भाई दिनेश कटारे ने कहा कि उसके भाई और लड़की का चार पांच साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था, उसने लड़की को लेपटॉप, मोबाइल दिलवाया, उसके कॉलेज की फ़ीस भी भरी, पिता की चाय की दुकान के लिए 70 हजार  रुपये भी दिए। लेकिन फिर भी लड़की के पिता ने उसकी सगाई कर दी जिसके बाद से गिर्राज डिप्रेशन में था। मृतक के  भाई ने कहा कि उसके भाई के साथ धोखा हुआ है ये कोई साजिश लगती है।

गौरतलब है कि मुरार थाना (Gwalior Police) क्षेत्र के बैजल कोठी क्षेत्र में 6 नंबर चौराहे के पास रहने वाली साक्षी गुप्ता नामक युवती को सोमवार की रात एक युवक ने गोली मार दी थी।  हमलावर पहले से घात लगाए बैठा था। मृतका शिवपुरी जिले के भौंती गांव की रहने वाली थी उसके पिता मनोज गुप्ता ग्वालियर में घर के पास चाय का ठेला लगाते हैं।

ये भी पढ़ें – मंडला : घर की छत पर सो रहे पति-पत्नी सहित बेटी की गला रेतकर हत्या, पत्नी का गला काटकर ले गए आरोपी

04 अप्रैल को मृतका साक्षी की सगाई हुई थी 21 जून को शादी तय हुई थी। वो अभी 11 मई को ही गांव से लौट कर ग्वालियर आई थी। सोमवार शाम को वो मौसी लड़की के साथ मंदिर गई थी, वो लौटकर घर की तरफ आ रही थी तभी छिपे बैठे गिर्राज कटारे ने उसकी कनपटी पर सटाकर कट्टे से गोली मार दी और भाग गया। जिसकी पुलिस तलाश कर रही थी।