अंधे कत्ल का पर्दाफाश, पत्नी ने ही प्रेमी व उसके दोस्तो के साथ मिलकर की थी हत्या, आरोपी गिरफ्तार

। पुलिस द्वारा घर पर पूछताछ करने पर पता चला कि मृतक सुरेश की ने प्रेमविवाह किया था विवाह के बाद से ही दोनों पति पत्नी में अक्सर विवाद होता था। कुछ महीने पहले सुरेश की पत्नी घर से प्रेमी के साथ भाग गई थी। सुरेश किसी तरह उसे घर तो ले आया पर बेमन से रह रही पत्नी ने सुरेश को ठिकाने लगाने की योजना तैयार कर ली थी|

इटारसी, राहुल अग्रवाल| चार दिन पहले हुई रेलकर्मी की हत्या के आरोपियो को पुलिस ने आज गिरफ्तार कर लिया है। हत्या मृतक की पत्नी ने अपने प्रेमी व उसके दोस्तों से कराई थी। इस अंधे कत्ल का आज पथरौटा पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है ।

पत्थर से सर कुचलकर की थी हत्या
ऑर्डिनेंस फेक्ट्री के पास ग्राम नानूपुरा पांडरी निवासी रेलकर्मी सुरेश उइके की पत्थरों से सिर कुचलकर हत्या कर दी। घटना के पीछे पारिवारिक रंजिश की आशंका जतायी जा रही थी। पुलिस द्वारा घर पर पूछताछ करने पर पता चला कि मृतक सुरेश की ने प्रेमविवाह किया था विवाह के बाद से ही दोनों पति पत्नी में अक्सर विवाद होता था। कुछ महीने पहले सुरेश की पत्नी घर से प्रेमी के साथ भाग गई थी। सुरेश किसी तरह उसे घर तो ले आया पर बेमन से रह रही पत्नी ने सुरेश को ठिकाने लगाने की योजना तैयार कर ली थी| जिसके बाद 25 नवम्बर को रात 8 बजे डयूटी खत्म कर लौट रहे सुरेश को पत्नी दुर्गेश के प्रेमी शहीद अली व उसके दोस्ती द्वारा अंधेरे में रोककर मारपीट कर पत्थर से कुचलकर हत्या कर फरार हो गए थे। जिन्हें आज पथरौटा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया|

पिता ने दिया था थाने में आवेदन बहु पर जताया था शक
रामदास उइके पिता कन्नूलाल उईके उम्र 85 साल निवासी सोच में रिपोर्ट किया कि मेरे पुत्र सुरेश उईक पिता रागदार के उम 40 साल निवासी भानूपुरा पाहरी जी दिनाक 24/11/2040 को 8:30 बजे से 9:30 बजे के बीच अज्ञात व्यक्तियों द्वारा पत्थर से आयुध निर्माणी इटारसी रोड के किनोर जगल में सिर कुचलकर हत्या करने संबंधी रिपोर्ट की गई थी जिस पर से थाना पपरौटा में अपराध कमांक 220/20 धारा 302 मा. द वि. का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया|

थाना प्रभारी पथरौटा प्रज्ञा शर्मा द्वारा हमराह स्टाफ सनि Kभोजराज वरवडे, सुरेन्द्र मालवीय, प्र.आर.229 अनिल ठाकुर, आर.हेमत टिल्लू,विनोद से सजय की टीम बनाई गई । टीम के द्वारा मृतक सुरेश उईके की पत्नी दुर्गेश तोमर जिसका मायका ग्राम कादई कला का है शहिद अली पिता गफूर अली उम्र 34 साल ग्राम कादई कला स्कूल के पढते समय से ही दुर्गेश एवं शहीद अली के दोनों के एक दूसरे से प्रेम संबंध थे मृतक सुरेश उईके की नौकरी लगने के पूर्व दुर्गेश तोमर के यहाँ टेक्ट्रर पर ड्राईवरी करता था उसी दौरान सुरेश उईके एवं दुर्गेश में प्रेम संबंध हुये एवं दुर्गश एवं सुरेश ने प्रेम विवाह कर लिया तथा नानूपुरा पाडरी में मकान बनाकर रहने लग गये । सुरेश उईके कि रेल्वे में बेल्डर के पद पर नौकरी लग गई थी जिसका कार्य क्षैत्र किरतगढ़ से भौरा तक था जो रोज अपनी मोटर साईकिल से नानूपुरा से डियूटी करने आता जाता था इसी दौरान जब सुरेश उईके घर पर नही रहता था तो शहीद अली उसकी प्रेमीका दुर्गेश से मिलने अक्सर आते जाते रहता था । दिनांक 08.08.2020 को शहीद अली के साथ दुर्गेश सिवनी मालवा भागकर चली गई थी फिर दुर्गेश को शहीद अली ने दिनांक 19.09.2020 को नानूपुरा लाकर छोड दिया था इसी बात को लेकर दुर्गेश एवं सुरेश में आपस में कहा सुनी होती थी करीब 8-10 रोज पहले सुरेश द्वारा घर में सीसीटीव्ही कैमरे लगा दिये गये थे इसी बात को लेकर शहीद अली ने सोचा की अब दुर्गेश से मिलना सम्भव नही है तब दुर्गेश एवं शहीद अली ने मोबाईल पर चर्चा कर सुरेश उईके को रास्ते से हटाने की योजना बनाई और दिनांक 24.11.2020 को शहीद अली पिता गफर अली उम्र 34 साल निवासी कादई कला ने अपने दोस्त अरबाज खान पिता कमाल खान उम्र 20 साल निवासी नया बस स्टेण्ड के पास नदरवाडा रोड सिवनी मालवा एवं असरफ उर्फ आशु पिता सरदार खान उम्र 20 साल निवासी नया बस स्टेण्ड के पास नदरवाडा रोड सिवनी मालवा द्वारा पथरौटा हार्डवेयर की दुकान से सेटिंग का तार तथा गेती के दो वेसे खरीदकर मोटर साईकिल से आयुध निर्माणी रोड चेक पोस्ट से 01 किमी आगे सुनसान रास्ते पर बिजली के खंमे से तार बांधकर सुरेश उईके की मोटर साईकिल रोकने की योजना बनाई एवं अरवाज एवं असरफ को मोबाईल से सूचना देने पर तार पलसे के पेड़ से लपेटकर सुरेश को रोकने हेतु कहकर शहीद अली अपनी मोटर साईकिल से चेक पोस्ट तरफ आया ओर चेक पोस्ट से जैसे ही सुरेश अपनी मोटर साईकिल से निकला शहीद अली ने मोबाईल से अरबाज के मोबाईल पर सूचना दी और सुरेश का पीछा करते मौके पर पहुंचा अरबाज ने तार से सुरेश का रास्ता रोका सुरेश जिसे ही नीचे गिरा तो असरफ ने गेती के पैसे से सुरेश के कमर पर दाहिने तरफ मारा ओर तीनों ने मिलकर सुरेश को पकडकर जंगल में सागौन के पेड़ के नीचे ले जाकर उसका हेलमेट निकालकर शहीद अली ने पलसे के पेड के नीचे से करीब 20 किलो का पत्थर उठाकर रात्री करीब 8.30 से 9.00 बजे के बीच सुरेश उईके के सिर पर मार दिया जिससे सुरेश उईके की खोपडी फोटकर उसका भेजा बाहर निकल गया था जिससे सुरेश उईके की मौके पर मौत हो गई आरोपी 1. शहीद अली पिता गफूर अली उम्र 34 साल निवासी कादई कला 2 अरबाज खान पिता कमाल खान उम्र 20 साल निवासी नया बस स्टेण्ड के पास नदरवाड़ा रोड सिवनी मालवा को महपानी थाना चिरचौली जिला बैतूल से रात्रि में पकडकर पूछताछ कर घटना वक्त पहने कपड़े एवं मृतक के कागजात जप्त किये एवं आरोपी असरफ उर्फ आशु पिता सरदार खान उम्र 20 साल निवासी नया बस स्टेण्ड के पास नदरवाडा रोड सिवनी मालवा को सिवनी मालवा से गिरफतार कर पूछताछ कर घटना वक्त पहने कपडे एवं मृतक सुरेश उईके की मोटर साईकिल की चाबी जप्त की गई तथा आरोपिया दुर्गेश उईके पति सुरेश उईके उम्र 34 साल निवासी नानूपुरा डोब को गिरफतार किया गया जिन्हे न्यायिक अभिरक्षा में माननीय न्यायालय पेश किया जाता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here