अधिकारियों के न मिलने पर किसानों ने दीवार पर चस्पा किया ज्ञापन, आंदोलन की चेतावनी

इटारसी, राहुल अग्रवाल। भारतीय किसान संघ इटारसी नें प्रशासनिक अधिकारियों की अनुपस्थिति में अपनी मांगों का ज्ञापन एसडीएम कार्यालय के सामने चिपकाकर धान के सर्वे की मांग की।

भारतीय किसान संघ के जिला प्रवक्ता रजत दुबे ने बताया कि विगत दिनों आयी आंधी तूफान से इटारसी तहसील के अंतर्गत अनेक गांवों में धान की फसल गिर गयी। इससे अत्यधिक  नुकसान हुआ है जिसके सर्वे की मांग को लेकर किसान तहसील कार्यालय पहुंचे। लेकिन कोई प्रशासन के अधिकारी नहीं मिलने से भारतीय किसान संघ नें ज्ञापन को दीवार पर चस्पा कर दिया। तहसील के तहसील के रूपापुर, बिछुआ, गुर्रा, दमदम, सोनतलाई, कांदई, रामपुर, पाहनवर्री, सिलारी, चिल्लई, केसला, ग्वाड़ी, खापा में किसानों को बेहद नुकसान हुआ है। यहां लगभग 60-70 प्रतिशत नुकसान हुआ है। किसानों नें 20,000 रू/एकड़ की लागत लगाकर फसल लगायी थी लेकिन अब लागत निकालना भी मुश्किल हो रहा है। अनेक किसानों नें कर्ज लेकर फसल की बोनी की थी, अब उनके सामने भविष्य में संकट उत्पन्न होगा।

भारतीय किसान संघ नें ज्ञापन के माध्यम से शीघ्र ही पटवारियों को भेजकर सर्वे और राहत राशि प्रदान करने की मांग की है। मांग न मानी जाने पर संघ ने तीन दिन के बाद तहसील के सामने अनिश्चित काल के लिए धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है। ज्ञापन देते समय तहसील अध्यक्ष श्रीराम दुबे, जिला उपाध्यक्ष मोरसिंह राजपूत, तहसील उपाध्यक्ष श्यामशरण तिवारी, तहसील मंत्री लीलाधर राजपूत, जिला सदस्य रामकिशोर राजपूत, सौरभ दुबे, सुनील सिंह चौहान, सद्दाम पटैल, रामस्वरूप चौरे, सुरेन्द्र चौरे, गोविंदद चौरे, देवीसिंह गहलोत, मुकेश साहू, मुन्ना राजपूत आदि कार्यकर्ता एवं किसान उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here