Indore : इंदौर की इन झाकियों और अखाड़ों को मिला पहला, दूसरा, तीसरा स्थान, देखें तस्वीरें

मध्य प्रदेश के बड़े शहर इंदौर (Indore) में हर साल परंपरा के अनुसार अनंत चतुर्दशी के दिन चल समारोह में झांकियां निकाली जाती है। इन झांकियों का कारवां शाम से शुरू होता है जो कि अगले दिन प्रातः तक चलता है।

indore

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के बड़े शहर इंदौर (Indore) में हर साल परंपरा के अनुसार अनंत चतुर्दशी के दिन चल समारोह में झांकियां निकाली जाती है। इन झांकियों का कारवां शाम से शुरू होता है जो कि अगले दिन प्रातः तक चलता है। ऐसे में लाखों लोग इन झांकियों को देखने के लिए इस चल समारोह में शामिल होते हैं। बता दें यह परंपरा करीब 100 साल पुरानी है।

Indore : इंदौर की इन झाकियों और अखाड़ों को मिला पहला, दूसरा, तीसरा स्थान, देखें तस्वीरेंIndore : इंदौर की इन झाकियों और अखाड़ों को मिला पहला, दूसरा, तीसरा स्थान, देखें तस्वीरें

इंदौर में 100 सालों से अनंत चतुर्दशी के दिन चल समारोह में झांकियां और अखाड़ों का कारवां देखने को मिलता है। हालांकि बीते 2 साल से इंदौर में झांकियां नहीं निकाली गई, लेकिन इस साल लोगों के अंदर झांकी देखने का उत्साह अलग ही नजर आया। लोगों ने इस साल इस चल समारोह में जमकर सहभागिता ली। इतना ही नहीं देर रात तक जोश और उल्लास के साथ चल समारोह में झूमते हुए झिलमिलाती झांकियों और अखाड़ों का लुफ्त उठाया।

Indore : इंदौर की इन झाकियों और अखाड़ों को मिला पहला, दूसरा, तीसरा स्थान, देखें तस्वीरें

इस झांकी को मिला पहला स्थान –

ऐसे में इस साल झाकियों में प्रथम स्थान मालवा मिल की झांकी को मिला। वहीं दूसरे स्थान पर राजकुमार मिल की झांकी रही तो तीसरे स्थान पर संयुक्त रूप से हुकमचंद मिल (कालिया नाग) और स्वदेशी मिल (ब्रज की लठमार होली) की झांकी आई।

Must Read : लाखों कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, परिवर्तनशील महंगाई भत्ते में वृद्धि, खाते में इतनी बढ़कर आएगी राशि 

indoreindore

इसके अलावा अखाड़ों में छोगालाल उस्ताद व्यायामशाला और चंद्रपाल उस्ताद व्यायामशाला को प्रथम स्थान मिला है। इसको लेकर जिला प्रशासन द्वारा ये निर्णय लिया गया है कि कौनसी झांकी को कौनसा स्थान मिलेगा।खास बात ये है कि अखाड़ों के करतब को देखते हुए पुरस्कार दिए गए है। कल चल समारोह में युवाओं ने हैरतअंगेज प्रदर्शन और जोरदार करतब दिखा कर सभी का मन मोह लिया है। ऐसे में अखाड़ों का चयन अलग-अलग श्रेणियों में पुरस्कार के लिए किया गया।

इनको मिला पहला स्थान –

दो हाथ की बनेठी वर्ग –

पहला स्थान – छोगालाल उस्ताद व्यायामशाला
दूसरा स्थान – मां हरसिद्धि व्यायामशाला एवं महावर कोली समाज उषानगर
तीसरा स्थान – महाबलेश्वर व्यायामशाला
खास – सार्वजनिक अहिरवार समाज चैतन्य व्यायामशाला तथा केसरी नंदन व्यायामशाला केलोद हाला

एक हाथ का पटा वर्ग –

पहला स्थान – चंद्रपाल उस्ताद व्यायामशाला
दूसरा स्थान – बिंदा गुरु व्यायामशाला एवं पवनपुत्र व्यायामशाला
तीसरा स्थान – महावीर व्यायामशाला
खास – महिला अखाड़ा वर्ग में श्री रामनाथ गुरु व्यायामशाला को प्रथम पुरस्कार

बालक वर्ग –

पहला स्थान – अमन वर्मा (दास व्यायामशाला)
दूसरा स्थान – दक्ष पवार एवं हर्ष यादव (मोहन सिंह उस्ताद व्यायामशाला)
तीसरा स्थान – दया चौधरी (ब्रजलाल गुरु व्यायामशाला नयापुरा) तथा सक्षम राजपूत (वीर बलवंत गुरु व्यायामशाला)
खास – आयुष कौशल (सुभाष व्यायामशाला)

बालिका वर्ग –

पहला स्थान – कीर्ति जरिया (कल्लन गुरु व्यायामशाला)
दूसरा स्थान – प्रतिक्षा आर्य (एकलव्य व्यायामशाला)
तीसरा स्थान – मेघा वर्मा (श्री दास हनुमान व्यायामशाला)