इंदौर पुलिस के हत्थे चढ़ी नोट डबल करने का झांसा देने वाली गैंग

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर पुलिस ने एक ऐसी गैंग पकड़ी है जो लोगों को नोट डबल करने का झांसा देकर ठगती थी, यह आरोपी केमिकल, टेप और छुटपुट सामान के जरिए ये हाथ की सफाई दिखाते थे। इसमें उन्हें सिर्फ डेढ़ मिनट लगते थे। गैंग में कुल तीन लोग हैं। दो बिहार के, एक इंदौर का। तीनों पुराने क्रिमिनल्स हैं। 

यह भी पढ़ें…. आ रही है Royal Enfield की नई बुलेट 350, फीचर्स और कीमत का हुआ खुलासा, जानें यहाँ

इंदौर के आलोक नगर का जोगेंद्र निगवाल उर्फ जीतू, बिहार के मूल निवासी शेख एहतेशाम जमीरुद्दीन और शेख मुन्ना कालू निवासी जिला कटिहार इन तीनों ने मिलकर गैंग बना ली। यह सबसे पहले टारगेट तलाशते, इनकी नजर बड़े व्यापारियों पर रहती थी, तीनों ने ठगी के लिए भी आपस में काम बाँट रखे थे, इसी बीच जीतू ने एक व्यापारी को फँसाया और नोट डबल करने का लालच दिया, व्यापारी को इन्होंने कहा कि महंगे केमिकल से नोट डबल किए जा सकते है और यह हुनर इन्हे आता है, प्रॉपर्टी कारोबारी ने डेमो दिखाने के लिए कहा। डेमो दिखाने के बाद इन्होंने व्यापारी को 500- 500 के चार नोट दिए और बैंक में जमा करने के लिए कहा, व्यापारी नोट लेकर बैंक पहुंचा और उसने यह चार नोट जमा करने के लिए दिए, नोट जमा हो गए, व्यापारी बेहद खुश हो गया,  विश्वास होने के बाद बदमाशों ने कारोबारी से कहा हमें बाहर जाना है, इसलिए एक बार में ही ज्यादा रकम ले आएं ताकि वे उसे डबल कर देंगे और फिर बाहर चले जाएंगे। इस पर प्रॉपर्टी व्यवसायी ने उन्हें 30 हजार रुपए दे दिए।

यह भी पढ़ें… हजारों कर्मचारियों-पेंशनरों के लिए खुशखबरी, जल्द होगा वेतन, भत्तों और पेंशन का भुगतान, राशि जारी

प्रॉपर्टी व्यवसायी ने आरोपियों को 30 हजार रुपए दिए थे, जब उसने डबल रुपए मांगे तो वे पैसा लौटाने में आनाकानी करने लगे। प्रॉपर्टी व्यवसायी को शक हुआ तो उसने इनके बारे में जानकारी निकाली। उसे पता चला कि ये सभी बदमाश हैं और पहले ही भी इस तरह की जालसाजी कर चुके हैं। जिसके बाद उसने खजराना थाने में शिकायत की। खजराना पुलिस के मुताबिक बदमाश 10 लाख रुपए इकट्‌ठा करने की फिराक में थे। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, फिलहाल उनसे पूछताछ कर पता लगाया जा रहा है कि बदमाशों ने ये ट्रिक कहां से सीखी और इंदौर में उन्होंने और किन लोगों के साथ इस घटना को अंजाम दिया है।