युवक ने फैक्ट्री के सामने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में खुद को बताया जिम्मेदार

इंदौर डेस्क रिपोर्ट। इंदौर शहर में एक व्यक्ति ने बाणगंगा थाना क्षेत्र में स्थित अपनी ही फैक्ट्री के सामने फांसी लगाकर अपना जीवन समाप्त कर लिया। जानकारी के अनुसार इंदौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र के कुशवाह नगर में रहने वाले 45 साल के संजय पिता श्रवण सांकरे ने अपनी वर्कशॉप के सामने स्थित मंदिर के समीप फांसी के फंदे पर झूल कर आत्महत्या कर ली। मृतक के पास एक सुसाइड नोट भी मिला है जिसे बरामद कर पुलिस जांच कर रही है।

यह भी पढ़े… कर्मचारी-ग्राहकों के लिए अच्छी खबर, समय से पहले होगा राशि का भुगतान

मृतक के परिवार के सदस्य सुभाष सांकरे ने बताया कि श्रवण का लेथ का काम चलता था और नजदीक ही उसकी वर्कशॉप थी जिसके सामने उसने फांसी लगा ली। वही उसके पास मिले सुसाइड नोट में उसने खुद को अपनी मौत का जिम्मेदार बताया। वही अपनी माँ से माफी मांगी और लिखा कि वो उसे माफ़ कर दे क्योंकि माँ की सेवा नही कर पाया। इधर, अपनी पत्नि और बच्चों से भी मृतक ने माफी मांगी और पत्नि से दोनों बच्चों का ध्यान रखने की बात लिखी। मृतक के परिजनों की माने तो उसका काम भी ठीक चल रहा है। खुदकुशी करने वाले युवक ने सुसाइड नोट में कुछ लोगों से लेन – देन का जिक्र भी किया है जिसे लेकर पुलिस जांच में जुटी हुई है।

यह भी पढ़े… काली के विवादित पोस्टर पर भड़के भजन सम्राट अनूप जलोटा

बाणगंगा पुलिस के जांच अधिकारी जगदीश मालवीय ने बताया कि पुलिस ने मर्ग कायम जांच शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि सांवेर रोड़ सी सेक्टर में मृतक की वर्कशॉप थी। वही पुलिस की माने तो माँ और पत्नि की सेवा नही करने के मलाल की बात को मृतक संजय ने प्रमुखता से रखा है। वही पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है जिसके बाद जांच की दिशा तय हो सकेगी।