Jabalpur: निजी अस्पताल में हुई जुड़वा बच्चों की मौत, परिजनों ने जमकर मचाया हंगामा, लगाया लापरवाही का आरोप

परिजनों का कहना था कि डॉक्टरों (doctors) की लापरवाही के कारण बच्चों की जान गई है। डॉक्टरों ने इलाज में लापरवाही की है। इस पूरे मामले की जांच कराने के लिए कलेक्टर (collector) से मांग की जाएगी।

jabalpur

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर (jabalpur) के लेडी एल्गिन अस्पताल में आज जुड़वा बच्चों (twin kids) की मौत (death) पर परिजनों ने जमकर हंगामा मचाया। परिजनों का आरोप था कि बच्चों के इलाज में लापरवाही (carelessness) की गई जिसके चलते उनकी मौत हुई। बच्चों की मौत पर परिजनों ने जमकर हंगामा किया। परिजनों का कहना था कि डॉक्टरों (doctors) की लापरवाही के कारण बच्चों की जान गई है। डॉक्टरों ने इलाज में लापरवाही की है। इस पूरे मामले की जांच कराने के लिए कलेक्टर (collector) से मांग की जाएगी।

यह भी पढ़ें… Indore: कोर्ट के समन और नोटिस को लेकर इंदौर में ई-क्रांति की शुरुआत

जानकारी के मुताबिक नारायणगंज मंडला निवासी राजेंद्र सोनी की पत्नी ने 14 जून को जुड़वा बच्चों को जन्म दिया। जुड़वा बच्चों में बच्ची की सेहत सही नहीं होने से पति राजेंद्र सोनी ने पत्नी सहित बच्ची को एल्गिन अस्पताल में भर्ती कराया, जहां दो दिन भर्ती होने के बाद जुड़वा बच्चों की मौत हो गई। बच्चों की मौत पर परिजनों ने आरोप लगाया कि सिर्फ एक बच्चे की सेहत ठीक नहीं थी जिसमें ठीक ढंग से इलाज नहीं हुआ यहां तक कि बच्चे और उसकी मां से भी मिलने नहीं दिया गया।

यह भी पढ़ें… पुलिसकर्मियों के तबादले, पुलिस अधीक्षक ने जारी किए आदेश, देखिये लिस्ट

परिजनों ने बताया कि जुड़वा बच्चों की मौत डॉक्टरों की लापरवाही के कारण हुई। इस संबंध में जब डॉक्टरों से जानकारी लेनी चाही तो डॉक्टरों ने बात करने से इंकार कर दिया। परिजनों का कहना है कि  अब इस मामले को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर निष्पक्ष जांच करने की मांग की जाएगी।