Bribe : मप्र में लोकायुक्त का शिकंजा, बिजली विभाग का जेई रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार

आरोपी जेई के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम (Corruption Act) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Bribe

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के जबलपुर (Jabalpur) में लोकायुक्त (Lokayukt) ने बड़ी कार्रवाई की है। टीम ने बिजली (Electricity) चोरी के मामले को रफा-दफा करने को लेकर रिश्वत (Bribe) मांगने वाले बिजली विभाग (Electricity Department) के जूनियर इंजीनियर (Junior engineer) को रंगेहाथों गिरफ्तार (Arrest) किया है। आरोपी जेई के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम (Corruption Act) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़े.. MP Board : अप्रैल-मई में 9वीं से 12वीं की परीक्षाएं, छात्रों के लिए मुसीबत ना बन जाएं निकाय चुनाव

मामला बिजली कंपनी (Electricity Company) के जबलपुर सिटी सर्किल के पूर्व संभाग क्रमांक दो का है। यहां बीते दिनों विजिलेंस टीम ने प्रेमसागर पुलिस चौकी के पीछे रहने वाले प्रकाश चंद वंशकार को बिजली चोरी के मामले में पकड़ा था और प्रकरण बनाया था। मामला रफा दफा करने को लेकर संभाग क्रमांक-दो में पदस्थ जूनियर इंजीनियर (जेई) कमलेश केसरा ने 10 हजार रुपए रिश्वत की मांग की और ऐसा ना करने पर जेल भेजने की धमकी दे रहा था।इतना ही नहीं दबाब बनाकर जेई ने उससे 5 हजार रुपए ले भी लिए और बाकी के रुपयों की मांग करने लगा।

यह भी पढ़े.. Shivpuri : अव्यवस्थाओं पर भड़के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, डीई की फोन पर ली क्लास

इससे तंग आकर प्रकाश चंद्र ने लोकायुक्त से शिकायत की। इसके बाद टीम ने प्लान बनाकर प्रकाश को जेई के पास दोपहर 12 बजे के लगभग पांच हजार रुपए लेकर जेसू पावर हाउस कार्यालय भेजा और जैसे ही जेई ने रिश्वत की दूसरी किश्त के 5 हजार रुपए लिए लोकायुक्त ने धर दबोचा। लोकायुक्त को अचानक वहां देख जेई सकपका गया और पैसे फेंक दिए और फिर विवाद करने लगा।टीम ने एक ना सुनी और आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम का प्रकरण दर्ज करते हुए लोकायुक्त ने मौके पर ही जमानत दे दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here