Job Alert : सरकार का दबाव आया काम, इंफोसिस देगी युवा इंजीनियर्स को जॉब, निकाली भर्ती

इंफोसिस ने 22 अगस्त को कैम्पस प्लेसमेंट का आयोजन किया है

AIIMS

इंदौर, आकाश धोलपुरे। जानी मानी आईटी कंपनी इंफोसिस (infosys) अब मध्यप्रदेश के बेरोजगार युवा इंजीनियर्स को जॉब (job) देगी। इंफोसिस (infosys) ने 22 अगस्त को कैम्पस प्लेसमेंट के लिए बीई, बीटेक, एमई, एमटेक कर चुके इंजीनियरों से आवेदन मांगे हैं। खास बात ये है कि ऐसा सरकार के दबाव के बाद संभव हो सका है।

मध्यप्रदेश के बेरोजगार युवा इंजीनियर्स (unemployed young engineers) के लिए ये खबर बहुत महत्वपूर्ण है, हो सकता है इस खबर को पढ़ने के बाद उनके भविष्य में बदलाव हो जाये। दर असल ये खबर है युवाओं के जॉब (job) से जुडी। दर असल जानी मानी आईटी कंपनी इंफोसिस (infosys) ने युवाओं के लिए वेकेंसी निकाली है। लेकिन खास बात ये है कि ऐसा मध्यप्रदेश सरकार के दबाव के बाद संभव हो सका है।

मध्यप्रदेश में निवेश करने वाली कंपनियों द्वारा तय शर्तों के हिसाब से युवाओं को रोजगार ना देने और कैम्पस निर्माण न करने पर सरकार ने सख्त रुख अपनाया हुआ है। इंदौर के सुपर कॉरिडोर (indore super corridor) में सस्ती कीमत में जमीन लेने के बाद भी जब कंपनियों ने युवाओं को जॉब नहीं दिया और शर्तों का उल्लंघन किया तो इंदौर कलेक्टर ने पिछले दिनों टीसीएस (TCS) और इंफोसिस (infosys) को नोटिस जारी किये थे। इसके बाद इंफोसिस ने अपने यहाँ अब भर्तियां निकाली हैं।  इंफोसिस ने 22 अगस्त को कैम्पस प्लेसमेंट के लिए बीई, बीटेक, एमई, एमटेक कर चुके इंजीनियरों से आवेदन मांगे हैं।

गौरतलब है कि करीब आठ साल पहले इंफोसिस (infosys) ने इंदौर के सुपर कॉरिडोर में इंफोसिस ने 130 एकड़ जमीन ली थी , महज 26 करोड़ रुपये में खरीदी गई इस जमों पर इंफोसिस को इंदौर में भव्य कैम्पस बनाना था।  लीज की शर्तों के मुताबिक 90 प्रतिशत हिस्से पर बिल्डिंग और आवस बनाने थे साथ ही मध्यप्रदेश के युवाओं को रोजगार देना था।

ये भी पढ़ें – MP College: कॉलेज छात्रों के लिए बड़ी खुशखबरी, आगामी बैठक में रखा जाएगा यह प्रस्ताव

इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने पिछले दिनों जब एक टीम को इंफोसिस (infosys) के निरीक्षण के लिए भेजा तो यहाँ लीज शर्तों का उल्लंघन मिला, टीम को केवल 11 एकड़ पर निर्माण मिला और मात्र 600 लोगों को रोजगार की बात सामने आई।  सूत्रों के अनुसार इंफोसिस इसमें ये बताने में असमर्थ रही कि 600 में से कितने रोजगार मध्यप्रदेश के लोगों को मिले।

ये भी पढ़ें – कांग्रेस विधायक की धमकी- सत्ता में आए तो बाबू बनाकर रखूंगा, वीडियो वायरल

टीम की रिपोर्ट मिलने के बाद कलेक्टर ने नोटिस देकर तीन दिन में जवाब मांगा था जिसके बाद कंपनी ने बेरोजगार युवाओं के लिए भर्ती निकाली है।  एमपीएसईडीसी के महाप्रबंधक के द्वारकेश सराफ के मुताबिक 22 अगस्त को इंफोसिस की भर्ती प्रक्रिया रखी गई है। बीई, बीटेक, एमई, एमटेक कर चुके इंजीनियर कैम्पस प्लेसमेंट में हिस्सा ले सकते हैं ।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate: सोने चांदी की कीमतों में लगातार गिरावट, जानिए आज कितना सस्ता हुआ