कैलाश विजयवर्गीय ने दिग्विजयसिंह पर साधा निशाना, कही ये बड़ी बात

राजनीति में अभी बच्चो की कोई आवश्यकता नहीं है। उनको खेलने देना चाहिए अभी, उनमें सोचने समझने की शक्ति पैदा हो उसके बाद जो अच्छा होगा वो अपने आप चुन लेंगे ऐसे में अभी से बच्चो को प्रेशराइज करना किसी राजनीतिक दल के लिए अच्छा नहीं है। 

इंदौर, आकाश धोलपुरे। भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) पर पलटवार करते हुए करारा जवाब दिया है। मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) की तुलना ओवैसी से करने वाली दिग्विजय की टिप्पणी पर दिग्गज नेता ने कहा कि दिग्विजय सिंह को ये बात कभी समझ में नहीं आएगी, वो नकारात्मक सोचते हैं और तुष्टिकरण की ही तरफ जाते हैं।

इंदौर के विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 2 में स्थित ईएसआईसी मॉडल हॉस्पिटल के निर्माण कार्य का श्रीगणेश बुधवार से किया गया। इस मौके पर आयोजित समारोह में बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मुख्य अतिथि के रूप में विधि विधान से निर्माण कार्य का शुभारंभ किया। इस अवसर प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट, विधायक रमेश मेंदोला, बीजेपी नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें – मोदी सरकार के फैसले का CM Shivraj ने किया स्वागत, कहा – मूल मंत्र को करेगा साकार

आपको बता दें कि क्षेत्र क्रमांक 2 के विधायक रमेश मेंदोला और पूर्व लोकसभा अधिक के प्रयासों से मजदूरों को एक बड़ी सौगात ईएसआईसी मॉडर्न हॉस्पिटल के रूप में मिलने जा रही है। 500 बेड के इस अस्पताल के निर्माण की मंजूरी केंद्र से मिलने के बाद निर्माण कार्य की शुरुआत आज से कर दी गई है। इस मौके पर बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि ये हॉस्पिटल मजदूरों और आम आदमी के लिए समर्पित रहेगा जिनका ईएसआई कटता है और यदि कोई एक्सीडेंटल केस आएगा तो उस पर भी ध्यान दिया जाएगा लेकिन उपचार के प्राथमिकता मजदूरों के लिये ही रहेगी क्योंकि वो किसी निजी अस्पताल में इलाज कराना उनके लिये दूर की बात होती है।

विजयवर्गीय ने कहा कि विधायक रमेश मेंदोला जिस काम के पीछे पड़ जाते हैं तो उसे पूरा करके ही मानते हैं। उन्होंने कहा कि ये माडर्न हॉस्पिटल इंदौर के लिए सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल बन रहा है जिसमें सारी सुविधाएं होंगी। वहीं उन्होंने निर्माण कार्य में लगे ठेकेदारों से कहा कि हॉस्पिटल के निर्माण में हर बारीक चीज का ध्यान रखें ताकि भविष्य में कोई गड़बड़ न हो। कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि पास में स्थित 100 बेड के टीबी हॉस्पिटल का नवीनीकरण जनभागीदारी के माध्यम से कराया जाएगा जो चिकित्सा सेवा की दृष्टि से क्षेत्र के लिए बड़ी उपलब्धि होगी। उन्होंने कहा कि 100 एकड़ के परिसर में मेडिकल कॉलेज के निर्माण के प्रयास भी किये जा रहे हैं ।

ये भी पढ़ें – नेमावर मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का बयान, कहा- जल्द से जल्द दोषियों को फाँसी की सज़ा होनी चाहिए

कैलाश विजयवर्गीय ने दिग्विजयसिंह पर साधा निशाना, कही ये बड़ी बात

केंद्रीय मंत्रिमंडल विस्तार के सवाल पर बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि मंत्रिमंडल के विस्तार पर वो कोई टिप्पणी नहीं करना चाहेंगे क्योंकि शाम तक तक स्थिति सामने होगी। उन्होंने कहा कि ये तो पीएम का प्रिविलेज है और इंदौर हमेशा एक उदाहरण के तौर पर दूसरे शहरों के लिए उभरकर आया है। उन्होंने खंडवा से चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा कि ये पार्टी तय करेगी और मैं इंदौर में रहता हूँ खंडवा क्यों जाऊंगा ?

राज्यसभा सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह द्वारा ओवैसी और मोहन भागवत को एक सिक्के के दो पहलू बताने के सवाल कैलाश विजयवर्गीय ने तंज कस्ते हुए कहा कि दिग्विजय सिंह के हमेशा नकारात्मक विचार रहे हैं।  मेरा मानना है कि मोहन भागवत जी ने जो कहा वो सही है क्योंकि वसुधैव कुटुंबकम इस देश की पहचान है। इस देश मे हुन, शक, यहूदी, पारसी आये सब इस देश के अंदर कहां घुलमिल गए पता नहीं लगा। उन्होंने कहा कि हिन्दू फिलॉसाफी बहुत व्यापक है लेकिन दिग्विजयसिंह जी को ये बात कभी समझ में नहीं आएगी वो नकारात्मक सोचते हैं और तुष्टिकरण की ही तरफ जाते है।

https://vimeo.com/572046910

वही बाल (बच्चों) कांग्रेस को लेकर बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव ने अपने बालों को दिखाते हुए कहा बाल कांग्रेस ये और फिर उन्होंने दिग्गी पर तंज कसा और कहा कि उनके नेता के तो सार बाल उड़ गए है। हालांकि उन्होंने माना कि राजनीति में अभी बच्चो की कोई आवश्यकता नहीं है। उनको खेलने देना चाहिए अभी, उनमें सोचने समझने की शक्ति पैदा हो उसके बाद जो अच्छा होगा वो अपने आप चुन लेंगे ऐसे में अभी से बच्चो को प्रेशराइज करना किसी राजनीतिक दल के लिए अच्छा नहीं है।

ये भी पढ़ें – MP News: नर्सेस हड़ताल अवैध घोषित, हाई कोर्ट ने काम पर वापस लौटने के निर्देश दिए