राष्ट्रीय बाल अधिकार आयोग के बेंच कैंप में राज्य आयोग के सदस्य भी आयेंगे

खण्डवा। सुशील विधानि। 

महिला बाल विकास अधिकारी अंशुबाला मसीह ने  बताया राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग नई दिल्ली द्वारा आगामी 23 दिसम्बर को खंडवा जिले में बेंच कैंप का आयोजन स्थानीय कलेक्ट्रेट कार्यालय खंडवा में प्रातः 9 बजे से किया जा रहा है। इस दौरान बाल अधिकारी से जुड़ी सभी समस्याओं की सुनवाई आयोग के अध्यक्ष श्री प्रियांक कानूनंगो एवं आयोग के अन्य सदस्य करेंगे। कलेक्टर श्रीमती तन्वी सुन्द्रियाल ने बताया कि राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सदस्यों के साथ साथ मध्यप्रदेष राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सदस्य श्री द्रविन्द्र मोरे, श्रीमती अंजू मिश्रा व श्री आषीष कपूर भी इस दौरान उपस्थित रहेंगे।

कलेक्टर श्रीमती सुन्द्रियाल ने मीडिया प्रतिनिधियों को बताया कि आयोग की बेंच कैंप के दौरान मेडिकल बोर्ड के डॉक्टर्स उपस्थित रहेंगे जो कि विकलांग बच्चों के विकलांगता प्रमाण पत्र मौके पर तैयार कर प्रदान करेंगे। इसके अलावा निःषक्त बच्चों के यूडीआईडी कार्ड व बसों में रियायती दरों में यात्रा करने हेतु बस पास भी षिविर स्थल पर ही देने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि आज बाल कल्याण के क्षेत्र में कार्यरत विभिन्न एनजीओ की बैठक भी ली गई है तथा उनसे भी समस्याग्रस्त बच्चों के आवेदन आयोग की बेंच कैंप तक पहुचाने के लिए अनुरोध किया गया है। उन्होंने बताया कि बेंच कैंप के दौरान बच्चों के आधार पंजीयन की व्यवस्था भी की गई है। उन्होंने बताया कि खण्डवा में चाइल्ड लाइन व रेल्वे चाइल्ड लाइन के लिए संस्था चिन्हित कर ली गई है तथा यह संस्था अपना कार्य प्रारंभ कर रही है। आयोग की प्रतिनिधि सुश्री खान ने बताया कि राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग द्वारा उन सभी मामलों की सुनवाई की जाएगी जो कि बाल अधिकार हनन से संबंधित होंगे। जिनमें बाल श्रम, बाल स्वास्थ्य, बच्चों की षिक्षा, बच्चों का पोषण व बच्चों के अधिकार जैसे विभिन्न मामले शामिल रहेंगे। बेंच कैंप स्थल पर स्वास्थ्य षिविर भी आयोजित किया जायेगा। इच्छुक व्यक्ति आयोग के समक्ष प्रस्तुत करने हेतु अपने आवेदन ऑनलाइन भी खण्डवा जिला प्रषासन की वेबसाइट ाींदकूंण्दपबण्पद के माध्यम से भी भेज सकते है।