वनवासियों के अधिकारों को छीनने वालों को नहीं जाएगा बख्शा, की जाएगी सख्त कार्रवाई : वन मंत्री

खंडवा, सुशील विधाणी। प्रदेश के वन मंत्री डॉ कुंवर विजय शाह आज जिला अस्पताल पहुंचे, जहां उन्होंने वन विभाग के 2 घायल कर्मचारियों से भेंट की और चिकित्सकों से बेहतर से बेहतर इलाज कराने की बात कही। साथ ही कर्मचारियों को स्वास्थ्य लाभ के लिए इंदौर या भोपाल जैसे शहर में भी पहुंचाया जाएगा।

डॉ कुंवर विजय शाह ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि कुछ लोग वन के लोगों को गुमराह कर रहे हैं, जंगल काट रहे हैं, पट्टों का लालच दे रहे हैं। यह समाज का प्रदेश का देश का बुरा कर रहे हैं। हम इन से सख्ती से निपटेंगे। आज हमारे 1 कर्मी बुरी तरह पीटते रहे, लेकिन उन्होंने हमला नहीं किया। लेकिन इस प्रकार की घटना के बाद हम 2005 के पट्टों का 15 से 20 दिनों में निराकरण करेंगे।

 

अब उन मानसिकता के लोगों को पहचानना पड़ेगा जो भोले-भाले आदिवासियों को गुमराह कर रहे हैं। कुछ बाहर के लोग आकर जंगल की कटाई करते हैं। आखिर ऐसे लोगों को कौन सपोर्ट कर रहा है। कौन संस्था साथ दे रही है। इसकी जांच कराई जाएंगी और सख्ती से निपटेंगे।

जब जंगल काटता है तो उसका लाभांश का 50% भागीदारी आदिवासियों की और 1 समिति को दी जाती है। हमारे अधिकार से पहले वन पर वनवासियों का अधिकार है। वनवासियों के अधिकारों को छीनने वालों के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई करेंगे। हम उन्हें छोड़ेंगे नहीं यह बात वन मंत्री कुंवर विजय शाह ने कही। उन्होंने कहा कि मैं क्षेत्र में जाऊंगा जहां पर यह घटना हुई, उन वन परिक्षेत्र के आदिवासियों से बात करूंगा और प्रशासन के पूरे अधिकारी जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here