दतिया : मुख्यमंत्री सामूहिक कन्या विवाह योजना में जोड़ों को बाँटे गए उपहार वापस लेगा प्रशासन, बाँटी गई घटिया सामग्री

अधिकारियों का कहना है कि जो सामान अब तक बांटा गया है उसे विवाह जोड़ों से वापस लिया जाएगा और खराब सामान की जगह पर अच्छी गुणवत्ता का सामान लेकर वापस विवाह जोड़ों को दिया जाएगा।

दतिया, सत्येन्द्र रावत। 20 मई को दतिया जिले में हुए सामूहिक मुख्यमंत्री सामूहिक कन्या विवाह योजना के तहत जोड़ों को दी गई उपहार सामग्री वापस लेने का प्रशासन ने फैसला लिया है ऐसा पहली बार होगा कि सरकार की तरफ़ से शादी में दिया गय उपहार, समान वापस लिया जाएगा, दरअसल जो सामग्री इन जोड़ों को बांटी गई थी वह बेहद घटिया स्तर की निकली, लगातार शिकायते सामने आने के बाद अब प्रशासन ने यह फैसला लिया है। बाते जा रहा है कि दतिया में सामूहिक मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत 703 विवाह हुए थे। इसमें हरेक जोड़े को 38 हजार रुपए कीमत का गृहस्थी का सामान देना तय हुआ था। जोड़ों को सामान देर से तो मिला ही गुणवत्ता पर भी ध्यान नहीं दिया गया।

यह भी पढ़ें… Online Loan App के चक्कर में फंसा मुरैना का युवक, उसकी पत्नी के न्यूड एडिट वीडियो रिश्तेदारों को भेजे

 

करीब 3 माह पहले हुए इस आयोजन में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत हुए सामूहिक विवाह के बाद विवाह जोड़ों को सामान तो बांट दिया लेकिन गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखा गया। क्रय समिति की लापरवाही सामने आई है लेकिन अब जो खराब सामान बांटा गया उसे जोड़ों से वापस लिया जाएगा। इसके बदले गुणवत्तापूर्ण सामान दिया जाएगा।  इस सामान की लगातार शिकायते मिलने के बाद जब जांच की गई तो शिकायते सही पाई गई, अब आनन फानन में प्रशासन ने यह फैसला लेते हुए उपहार वापस लेकर दुबारा देने का फैसला लिया है, इस मामलें में यह बात सामने आई है कि जो सामग्री टेंडर के दौरान सैंपल के रूप में मिली थी वह नहीं बांटी गई बल्कि घटिया सामग्री बांट दी गई। न तो क्रय समिति के सदस्यों ने इस पर गौर किया और न ही वितरण के दौरान बनाई गई। हालांकि इस सारी प्रक्रिया में लंबा वक्त लग सकता है, लेकिन ऐसा किया जा रहा है। अभी तक करीब 200 जोड़ों को सामान बांटा जा चुका है। बाकी सामान को रोक लिया गया है। सामान बदल कर ही दिया जाएगा।