रेस्टोरेंट और कैफे की आड में चल रहा था देह व्यापार का धंधा, पुलिस ने एक दर्जन से अधिक युवक-युवतियों को किया गिरफ्तार

Amit Sengar
Published on -
morena news

Morena News : मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में सिटी कोतवाली पुलिस ने कैफ़े पर छापेमारी कार्रवाई कर सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया है। यह रैकेट शहर के बीचों बीच चल रहा था पुलिस ने दो जगह कार्रवाई की गई। जिसमें पुलिस ने लगभग एक दर्जन से अधिक युवक-युवती संदिग्ध हालात में पकड़े है। पुलिस ने इनके खिलाफ प्रॉस्टीट्यूशन एक्ट के तहत मुकदमा दायर किया गया है।

क्या है पूरा मामला

पुलिस को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि शहर में रेस्टोरेंट और कैफे की आड में जिस्मफरोशी का धंधा चल रहा है। सीएसपी के नेतृत्व में दो टीमों का गठन किया गया था दोनों टीमों ने जाकर मौके पर छापा मारा कार्रवाई की गई। शहर के वनखंडी रोड पर संतोष जादौन के मकान में मिड नाइट क्लब के नाम से सैक्स रैकेट संचालित था। पुलिस ने यहां छापा मारकर एक ग्वालियर व एक प्रेम नगर की महिला को पांच लोगों के साथ पकड़ा। और क्लब संचालक द्वारा बाहर से महिलाएं व लडक़ी बुलाकर देह व्यापार का धंधा करवाया जा रहा था। पुलिस को क्लब से पुरुस व महिलाओं के अंडर गारमेंटस और कुछ आपत्तिजनक सामग्री भी मिली है, जिसको पुलिस ने जब्त कर लिया है।

पुलिस ने दूसरे स्थान पर जब छापामारा कार्रवाई की जहाँ से एक युवक व युवती अंदर थे और उनके तीन साथी बाहर बैठकर उनके निकलने का इंतजार कर रहे थे। पुलिस पहुंची तो कमरे की कुंदी नहीं खोली तो एक आरक्षक ने फिल्मी स्टाइल में कमरे का कांच तोड़ दिया जिससे उसके हाथ में चोट आ गई। कमरे में पुलिस पहुंची तो युवक- युवती आपत्तिजनक स्थिति में मिले। पुलिस ने युवक-युवती के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

सीएसपी राकेश गुप्ता ने बताया कि शहर में पिछले कुछ दिन से कैफे व रेस्टोरेंट्स में देह व्यापार चलने की शिकायत मिल रही थी जिस पर अब कार्रवाई करते हुए वनखंडी रोड व गर्ल्स स्कूल रोड से एक दर्जन से अधिक युवक-युवतियों को गिरफ्तार किया गया है। इनके खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।
मुरैना से नितेन्द्र शर्मा की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News