जिसने लिखाई थी अपहरण की रिपोर्ट, वहीं निकला अपराधी

रायसेन डेस्क रिपोर्ट। बीती रात रायसेन के व्यापारी खलील अली के अपहरण के मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है। पूरे मामले में शामिल सात आरोपियों में से छह को पुलिस ने गिरफ्तार कर खलील को सकुशल रिहा करा लिया है। इस पूरे मामले में दिलचस्प बात यह है कि जिस व्यक्ति ने खलील के अपरहण की रिपोर्ट लिखाई वह भी आरोपी निकला।

कटनी : जुआ-फड़ पर दबिश, 20 जुआड़ी गिरफ्तार, नकदी और 90 लाख का समान जब्त

रायसेन के बीड़ी व्यापारी खलील खान का 6 और 7 नवंबर की दरमियानी करीब ढाई बजे बोलेरो गाड़ी में आए बदमाशों ने अपहरण कर लिया था। उस समय खलील अपने निर्माणाधीन वेयरहाउस में थे। घटना की जानकारी ही खलील अली के रिश्तेदार बिलाल हुसैन और अर्सलान अहमद ने पुलिस को दी और बताया कि आरोपी घर पर फोन लगाकर 40 लाख रू की फिरौती मांग रहे हैं और ऐसा न होने पर खलील को जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। इस घटना की सूचना मिलते ही पुलिस तेजी से सक्रिय हुई और 12 घंटे में ही इस पूरे मामले का पर्दाफाश कर दिया। पूरे मामले में दिलचस्प बात यह निकली कि सैयद बिलाल हुसैन, जिसने इस पूरे मामले की रिपोर्ट लिखाई थी, वह भी आरोपी था और खलील उसका मौसा है।

अक्षय कुमार की फिल्म सूर्यवंशी देखने के दौरान दर्शक युवकों ने स्क्रीन पर दे मारे अपने जूते !

पुलिस ने अपहरण में शामिल सात में से छह आरोपियों को गिरफ्तार करके खलील को सकुशल छुङा लिया है। एक आरोपी राहुल मेहर अभी भी फरार है जिसकी गिरफ्तारी के प्रयास लगातार किए जा रहे हैं। पुलिस ने घटना में इस्तेमाल हुई बोलेरो कार और एक अन्य पोलो कार आरोपियों के कब्जे से बरामद कर ली है। आईजी होशंगाबाद दीपिका सूरी ने इस पूरे मामले में पुलिस द्वारा की गई त्वरित कार्यवाही की प्रशंसा करते हुए जांच दल को इनाम लेने की बात कही है।