रतलाम।

एमपी में अंडे को लेकर सियासत गर्मा गई है। नेताओं के बीच जमकर बयानबाजी हो रही है। एक तरफ बीजेपी सरकार के आंगनबाडियोंं पर अंडा वितरण करने की योजना पर सवाल खडे कर रही है।वही दूसरी तरफ कृषि मंत्री सचिन यादव ने कैबिनेट मंत्री ईमरती देवी की बात का समर्थन किया है। उन्होंने अंडे को भोजन का अहम हिस्सा बताया है | 

मध्यप्रदेश के स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने रतलाम पहुंचे कृषि मंत्री सचिन ने कहा जिसको नहीं खाना है, वह नहीं खाए, उनके लिए अलग से व्यवस्था कर देंगे, अंडा स्वैच्छिक पोषण में रहेगा।प्रदेश की आंगनबाड़ियों में अंडा बांटा जाएगा।  जो नहीं खाना चाहे उसके लिए बाध्यता नहीं है । लेकिन एक ही कीचन में बनाए जाने के सवाल पर वे कन्नी काटी काट गए ।

आगे पत्रकारों से चर्चा करते हुए मंत्री सचिन यादव ने कहा की कुपोषण से परिवार को भी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है ।जिस युग में जी रहे वहां कुपोषण ठीक नहीं है । वही मंत्री के इस बयान के बाद अब एक बार फिर महिला बाल विकास मंत्री ईमरती देवी के बयान को बल मिला है ।प्रभारी मंत्री सचिन यादव आज प्रदेश के स्थापना दिवस कार्यक्रम में शामिल होने रतलाम पहुंचे थे जहां उन्होंने मीडिया से चर्चा में आंगनवाडियो में अंडे परोसने कि योजना की वकालत की है ।