विधानसभा अध्यक्ष की गुम हुई साइकिल बनी गले की हड्डी, तलाशनें मे जुटे खुद अधिकारी

रीवा, डेस्क रिपोर्ट। विधानसभा अध्यक्ष की साइकिल यात्रा शुरू होने से पहले ही चर्चा में आ गई थी, दरअसल 32 हजार की यह साइकिल भोपाल से रीवा तक का ट्रेन का सफर ही तय नहीं कर पाई और रास्ते मे ही कही ट्रेन से चोरी हो गई, और अब शासकीय रेल पुलिस यानी जीआरपी के अधिकारी पिछले एक सप्ताह से परेशान हैं, उनकी परेशानी का कारण है यह साइकिल। विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम की हबीबगंज-रीवा रेवांचल एक्सप्रेस के एसी कोच में रखी कीमती साइकिल के चोरी होने का जबलपुर से जीआरपी के अधिकारी कई बार सागर-खुरई के चक्कर लगा चुके हैं, लेकिन साइकिल का कोई सुराग नहीं लगा पा रहे हैं।

31 अक्टूबर को “राष्ट्रीय एकता दिवस” पर सीएम शिवराज दिलाएंगे शपथ, राज्य स्तरीय कार्यक्रम होंगे

दरअसल पूरा मामला गत 21 व 22 अक्टूबर की दरमियानी रात गाड़ी नंबर 02185 रेवांचल स्पेशल ट्रेन का है। विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम अपने विधानसभा  क्षेत्र में जनता के बीच साइकिल यात्रा करने जा रहे थे, उनके लिए विशेष साइकिल ट्रेन  के एसी कोच में रखकर रीवा लाई जा रही थी। तड़के 2.30 बजे के लगभग स्टाफ ने खुरई स्टेशन पर साइकिल नहीं देखी तो उसकी सूचना अधिकारियों को दी, मामला विधानसभा अध्यक्ष की साइकिल से जुड़ा था तो पुलिस महकमे व जीआरपी में खलबली मच गई। जबलपुर से जीआरपी के अधिकारी भी मौका-ए-स्टेशन पर पहुंचे और साइकिल की खोज-परख ली।

31 अक्टूबर को “राष्ट्रीय एकता दिवस” पर सीएम शिवराज दिलाएंगे शपथ, राज्य स्तरीय कार्यक्रम होंगे

हबीबगंज से लेकर सागर तक पडऩे वाले हर स्टेशन के सीसीटीवी फुटेज खंगाला जाने लगा, लेकिन साइकिल का कुछ पता नहीं लग पा रहा है। आज भी जीआरपी के अधिकारी परेशान हैं कि साइकिल अचानक कहां गायब हो गई।लेकिन इतना जरूर है कि आम यात्रियों की ट्रेनों में कीमती वस्तुएं व रुपए चोरी होने के मामले मे जीआरपी पतासाजी में जितनी हीलाहवाली करती है, उसके ठीक उलट इस वीवीआईपी साइकिल की खोजबीन के लिए जीआरपी के उच्च अधिकारी से लेकर मझौले व निचले अफसर, कर्मचारी दिन-रात एक किये हुए हैं, लेकिन उन्हें अभी तक सफलता हाथ नहीं लग सकी है। चर्चा है कि उसी रात जब साइकिल चोरी होने की जानकारी विस अध्यक्ष को लगी तो उन्होंने जीआरपी के अधिकारियों को फटकार लगाई थी। सूत्रों ने बताया कि 20 हजार की साइकिल खरीदकर विस अध्यक्ष अपने बंगले में सुबह-शाम प्रैक्टिस कर रहे थे।