सीहोर में PM आवास योजना चढ़ी भ्रष्टाचार की भेंट, अपात्र हितग्रहियों को बाटें 1 करोड़ 50 लाख

नगर के रसूखदार नगर पालिका की मिलीभगत के चलते जमकर आवास योजना का लाभ ले रहे है। जिसके चलते एक शिकायतकर्ता द्वारा एडीएम आदित्य जैन को शिकायत पत्र सौंपा गया।

सीहोर, अनुराग शर्मा। सीहोर (Sehore) में आवासहीन लोगो की सुविधा के लिए बनाई गई प्रधानमंत्री आवास योजना (Pradhan Mantri Awas Yojana) में जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है। जिसके कारण पात्र हितग्राही योजना का लाभ नहीं ले पा रहे है। वहीं नगर के रसूखदार नगर पालिका की मिलीभगत के चलते जमकर आवास योजना का लाभ ले रहे है। जिसके चलते एक शिकायतकर्ता द्वारा एडीएम आदित्य जैन को शिकायत पत्र सौंपा गया।

यह भी पढ़ें… Sex Racket: मप्र में सेक्स रैकेट का खुलासा, आपत्तिजनक हालत में 6 लड़के और 8 लड़कियां गिरफ्तार

शिकायतकर्ता कैलाश गोस्वामी ने गुरुवार को एडीएम आदित्य जैन शिकायती पत्र सौपा। जिसमें कैलाश गोस्वामी में नगरपालिका कर्मियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि नगर पालिका की मिलीभगत से अपात्र हितग्रहियों को आवास योजना का लाभ नियमो को ताक पर रखकर दिए गए है। अपने शिकायती पत्र में जानकारी देते हुए कैलास गोअस्वामी में बताया कि वार्ड क्रमांक 1 के 63 हितग्रहियों ऐसे है जो वार्ड 1 के निवासी नहीं है। परंतु उन्हें आवास योजना का लाभ दिया गया। इसी प्रकार 5 नगर पालिका के कर्मी है। जिन्होंने नियमो के विपरीत आवास योजना का लाभ लिया। एक अन्य मामले में वार्ड 01 के पांच हितग्राही ऐसे है जिनका 2017 में आवास योजना के अंतर्गत आवास स्वीकृत हो गया परन्तु इनको अभी तक राशि आवंटित नही की गई। इस प्रकार से वार्ड 01 में ही 60 से अधिक अपात्र हितग्रहियों को लगभग 1 करोड़ 50 लाख रुपए बांट दिए है। शिकायतकर्ता ने ADM आदित्य जैन से निवेदन किया है कि मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाये।