suspended

शहडोल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के शहडोल जिले (Shahdol District) में लापरवाही पर बड़ी कार्रवाई की गई है। शहडोल कलेक्टर डॉ सत्येंद्र सिंह उदासीनता और शासकीय कार्यों में लापरवाही बरतने पर सचिव एवं पटवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर दिया है। यह पहला मौका नहीं है, इसके पहले भी लापरवाहों पर कलेक्टर कार्रवाई कर चुके है।

यह भी पढ़े.. WhatsApp लेकर आ रहा है नया फीचर, सीक्रेट चैट्स होंगी हाइड और ट्रांसफर

दरअसल, शहडोल कलेक्टर और जिला मजिस्ट्रेट डॉ सत्येंद्र सिंह (Shahdol Collector Dr. Satyendra Singh)  ने विकासखंड सोहागपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिंहपुर भ्रमण के दौरान वहां पर पदस्थ पटवारी  पवन चैधरी एवं सचिव  मंगलेश्वर मिश्रा के द्वारा शासकीय कार्यों में लापरवाही, उदासीनता तथा कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए लगातार किए जा रहे लापरवाही पूर्ण कार्यों के कारण तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए।

इस दौरान शहडोल कलेक्टर ने  ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर, बीएलओ, सचिव, एएनएम तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा होमवर्क नहीं करने तथा स्वास्थ्य सुविधाओं पर ध्यान नहीं देने पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए बीएमओ को कड़े लहजे में कहा कि शासकीय सेवा के प्रति आपकी नियति और बिल पॉवर ठीक नहीं है, इसे तत्काल सुधारें।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र के इन 21 जिलों में बारिश के आसार, जानें कब दस्तक देगा मानसून

शहडोल कलेक्टर ने मीटिंग हाल के जमीन पर पड़े गद्दे और दरी की उपयोगिता पूछी और चिकित्सालय में व्यवस्थाएं सुदृढ़ बनाने के कड़े निर्देश दिए। कलेक्टर ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिंहपुर में एंबुलेंस की उपलब्धता के बारे में जानकारी ली। बीएमओ ने बताया कि एंबुलेंस उपलब्ध नहीं है इस पर उन्होंने उनसे पहल नहीं करने पर तत्काल पहल करने के निर्देश दिए।