Shivpuri News : मुनीम ले साथ हुई लूट का पुलिस ने 48 घंटे में किया खुलासा, 2 आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से लूट की रकम और कागजात बरामद किए हैं।

शिवपुरी, शिवम पाण्डेय। शिवपुरी जिले (Shivpuri District) में बीते दिनों हुई लूट (Robbery) का पुलिस ने 48 घंटे में खुलासा कर दिया है। जिसमें पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से लूट की रकम और कागजात बरामद किए हैं।

यह भी पढ़ें…सैलरी से पैसे काटे तो सिक्योरिटी गार्ड ने ले ली सुपरवाइजर जान, घटना का CCTV फुटेज आया सामने

जानकारी के अनुसार पिछले दिनों पिछोर के नई बस्ती मोहल्ले की गली में चूड़ी व्यापारी के मुनीम से साथ यह घटना हुई थी। मुनीम अपनी उधारी का कलेक्शन करने के लिए पिछोर आया था और वहां से घर लौट रहा था। तभी सामने से आ रहे एक नाबालिक लड़के ने मुनीम की आंखों में अचानक मिर्ची डाल दी और उसके हाथ में टंगा बैग लेकर फरार हो गया। जिसके बाद मुनीम ने इसकी शिकायत पिछोर पुलिस से की। शिकायत में बताया कि चूड़ी व्यपारी सेठ विक्की कुकरेजा की दुकान पर मुनीम हूं और दुकानों से पैसे वसूलने का काम करता हूं। आज दोपहर 3:45 बजे के लगभग में दुकानों से पैसा वसूल कर रहा था तभी एक अज्ञात व्यक्ति मुंह पर रुमाल लगाए हुए आया और मेरी आंखों में मिर्ची डालकर मेरे हाथ से बैग छीन ले गया। जिसमें लगभग 1 लाख एवं जरुरी कागजात थे। फरियादी की शिकायत पर थाना पिछोर में अपराध क्रमांक 592 धारा 392 ,11/13 एमपीडीपीके एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

उक्त मामले को पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश सिंह चंदेल द्वारा गंभीरता से लेकर घटनास्थल का मुआयना किया एवं आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी हेतु निर्देश दिए। शिवपुरी पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षकप्रवीण भूरिया, पिछोर एसडीओपी दीपक तोमर के मार्गदर्शन में एक पुलिस टीम का गठन किया गया एवं आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु मुखबिर तंत्र सक्रिय किया गया ।

थाना प्रभारी पिछोर निरीक्षक गब्बर सिंह गुर्जर को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि लूट की घटना को अंजाम देने वाला आरोपी गल्ला मंडी के पास बैठा है। उक्त सूचना पर से थाना प्रभारी पिछोर द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया जिस पर से अति. पुलिस अधीक्षक शिवपुरी एवं एसडीओपी करैरा के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी पिछोर द्वारा उनि. नितिन भार्गव के नेतृत्व में पुलिस टीम को मुखबिर द्वारा बताये स्थान पर रबाना किया गया। पुलिस टीम ने वहां पहुंचकर देखा तो बताये हुलिये का व्यक्ति बैठा दिखा। जिसे हमराह फोर्स की मदद घेराबंदी कर पकड़ा, उक्त व्यक्ति से सख्ती से पूछताछ की तो उसके द्वारा अपने एक अन्य साथी के साथ उक्त लूट की घटना कारित करना स्वीकार किया। आरोपियों की निशादेही पर लूटे गये माल मशरुका रुपये व कागजात बरामद किये गए। क्त कार्रवाई में थाना प्रभारी पिछोर निरी. गब्बर सिंह गुर्जर, उनि. नितिन भार्गव, सउनि जहान सिंह, आर. हेम सिंह गुर्जर की महत्वपूर्ण भूमिका रही ।

यह भी पढ़ें… रिश्वत मामले में बोली रामबाई, कहा-देश में ऐसा कौन सा अधिकारी है जो घूस नहीं लेता !