Bribe: लोकायुक्त का शिकंजा- रिश्वत लेते तहसीलदार और रीडर रंगेहाथों गिरफ्तार

bribe

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के सीधी जिले (Sidhi District) में लोकायुक्त पुलिस (Lokayukt Police) ने भ्रष्टाचार (Corruption) पर कड़ी कार्रवाई की है।टीम ने यहां एक तहसीलदार और रीडर (Tehsildar and Reader)  को रिश्वत (Bribe) लेते रंगेहाथों गिरफ्तार (Arrest) किया है। आरोप है कि तहसीलदार और रीडर ने राजस्व रिकार्ड सुधारने के एवज में रिश्वत(Bribe) मांगी थी। यह कार्रवाई रीवा लोकायुक्त की 20 सदस्यीय टीम ने की है।

यह भी पढ़े.. प्रॉपर्टी रजिस्ट्री वालों को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दी बड़ी राहत, निर्देश जारी

दरअसल,  तहसीलदार लक्ष्मण प्रसाद पटेल (54) तहसील कार्यालय रामपुर नैकिन ने राजस्व अभिलेख सुधार के बदले शिवकुमार गौतम पिता राघव प्रसाद गौतम (61) निवासी ग्राम/पोस्ट रघुनाथपुर तहसील रामपुर नैकिन से संबधित प्रतिवेदन एसडीएम (SDM) की ओर भेजने के एवज में 2000 रूपए रिश्वत (Bribe) मांगी थी।

इसकी शिकायत फरियादी ने रीवा लोकायुक्त (Rewa Lokayukt) से की थी और योजना बनाकर गौतम को दोनों अधिकारियों के पास भेजा। जब वह तहसीलदार को रुपए देने लगा तो उन्होंने कुर्सी पर बैठे एक अधिकारी की तरफ इशारा करते हुए कहा कि बाबू को दे दो। इसके बाद जैसे ही फरियादी ने बाबू को रिश्वत के दो हजार रुपए दिए, लोकायुक्त की टीम 20 सदस्यों की टीम ने उसे मौके पर ही धर दबोचा।

यह भी पढ़े.. होली से पहले MP में सख्ती बढ़ी, इन जिलों में भी रविवार को लॉकडाउन, CM ने दिए ये निर्देश

अचाकनक लोकायुक्त अधिकारियों को अपने सामने देख तहसीलदार और रीडर भौचक्के हो गए और माथे पर पसीना आ गया। टीम ने दोनों अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है। इस कार्रवाई के बाद तहसील में हड़कंप मचा हुआ है।