सीधी।  जिला कांग्रेस कमेटी सीधी द्वारा पत्रकार वार्ता आयोजित कर जहां एक तरफ प्रदेश की कमलनाथ सरकार की 1 वर्ष की उपलब्धियां गिनाई वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार की सीएए एवं एनआरसी को संविधान विरोधी एवं विभाजन कारी कानून करार दिया है जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रूद्र प्रताप सिंह बाबा ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार का 1 वर्ष का कार्यकाल बेमिसाल रहा है इस अवधि में सरकार ने वचन पत्र के बिंदुओं को पूरी जिम्मेदारी के साथ अमलीजामा पहनाया है उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की करनी और कथनी में भेद नहीं रहा उसने जो कहा सो किया चुनाव से पूर्व जनता  को दिए गए  वचनों की पूर्ति की दृष्टि से 1 वर्ष का कार्यकाल उल्लेखनीय रहा इस अवधि में खासतौर से किसान कल्याण और कृषि विकास शिक्षा स्वास्थ्य महिला युवा नगरी विकास और ग्रामीण विकास से संबंधित वचनों की पूर्ति विशेष रही उन्होंने कहा कि विरासत में खाली खजाना मिलने के बावजूद भी कमलनाथ सरकार ने चुनौतियों को अवसर में बदला हर तबका चाहे वह युवा हो महिला हो किसान हो आदिवासी भाई-बहन पिछड़े वर्ग के भाई वहीं हो या सामान्य भर के बच्चे हो या बुजुर्गों कोई भी पिछले 1 वर्ष में सरकार की चिंताओं से अछूता नहीं रहा

पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए रुद्र प्रताप सिंह ने  केंद्र सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि हाल ही में केंद्र सरकार ने नागरिकता संशोधन अधिनियम एवं एनआरसी जैसे विभाजन कारी एवं  गैरजरूरी अधिनियम बनाकर देश को दंगे की आग में झोंक दिया है । केंद्र सरकार द्वारा लाया गया सीएए ना केवल सांप्रदायिक एवं विभाजन कारी है बल्कि संविधान की मूल आत्मा की हत्या करने वाला है। संविधान  मैं यह स्पष्ट प्रावधान है कि कोई भी सरकार चाहे केंद्र की हो या राज्य की धर्म के आधार पर जाति के आधार पर संप्रदाय के आधार पर भेदभाव करने वाला कोई भी कानून नहीं बना सकती । बावजूद इसके भी केंद्र की मोदी सरकार अपनी नाकामियां छिपाने एवं देश के मूलभूत मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए संविधान एवं लोकतंत्र की हत्या करने वाला काला कानून बनाने का दुस्साहस किया है  !केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए इस कानून के कारण आज पूरे देश में अराजकता का माहौल है !देश का अधिकांश भाग दंगे की चपेट में आ चुका है । अल्पसंख्यक समुदाय  के  लोगों में  भय एवं आतंक का वातावरण बना हुआ है । केंद्र सरकार अपनी गलतियों को सुधारने के बजाय हठधर्मिता पर उतारू हो चुकी है। भारतीय जनता पार्टी पूरे देश में सीए ए एवं एनआरसी को लेकर जनता से झूठ बोल रही है। भारतीय जनता पार्टी देश के धर्मनिरपेक्ष संविधान की हत्या कर धर्म के आधार पर देश के बंटवारे का संघ का जहरीला एजेंडा गुप्त रूप से लागू करने का प्रयास कर रही है । कांग्रेस पार्टी भारतीय जनता पार्टी के नापाक इरादों को कभी कामयाब नहीं होने देगी । कांग्रेस पार्टी द्वारा केंद्र सरकार के हर उस फैसले का विरोध किया जाएगा जो देश को एवं देश के संविधान को नुकसान पहुंचाने वाला हो तथा देश में अमन चैन एवं आपसी भाईचारे की भावना को ठेस पहुंचाता हो। भारतीय जनता पार्टी अपने जहरीले एवं विभाजन कारी एजेंडे को लागू करने के लिए बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर द्वारा बनाए गए देश के धर्मनिरपेक्ष एवं दुनिया के सबसे  महान भारतीय संविधान की मूल आत्मा को नष्ट कर संघ के एजेंडे को लागू करना चाहती है । वह अपने  इस नापाक इरादों में कभी कामयाब नहीं होगी । पत्रकार वार्ता में मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष लाल चंद गुप्ता पूर्व जिलाध्यक्ष आनंद सिंह चौहान पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष देवेंद्र सिंह मुन्नू अंबिकेश पांडे बसंती देवी कोल हरिहर गोपाल मिश्रा सुरेश प्रताप सिंह कुमुदिनी सिंह नीलम सिंह दान बहादुर सिंह आनंद सिंह शेर जगदीश मिश्रा प्रदीप सिंह दीपू रंजना मिश्रा अरविंद तिवारी राजकुमार सिंह अरविंद सिंह रोशन पंकज सिंहअध्यक्ष आईटी सेल ,प्रकाश सिंह परिहार दीपक मिश्रा श्रवण सिंह  राणा प्रताप सिंह जय सिंह रामायण सिंह बाबा धीरज सिंह संदीप उपाध्याय जगन्नाथ सिंह रामप्यारी कुशवाहा गणेश द्विवेदी सहित  कई कांग्रेश नेता उपस्थित रहे।