ओरछा का रामराजा मंदिर कंटेनमेंट एरिया घोषित, भक्तों के दर्शन पर 7 दिन प्रतिबंध

रामराजा मंदिर

ओरछा, मयंक दुबे। बुन्देलखण्ड की अयोध्या कहे जाने वाले निवाड़ी जिले (Niwari district) के ओरछा स्थित रामराजा मंदिर (Ramraja Temple at Orchha) को कंटेनमेंट एरिया घोषित कर बंद कर दिया गया है।वही दर्शनों पर 7 दिन के लिये प्रतिबंध (Ban) लगा दिया गया है। मंदिर के एक कर्मचारी के परिवार की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव (Corona Positive) आने के बाद जिला प्रशासन द्वारा यह निर्णय लिया गया है। अब कंटेनमेंट का समय खत्‍म होने के बाद ही मंदिर को शुरू किया जा सकेगा।

यह भी पढ़े.. सरकारी नौकरी: 10वीं पास के लिए सुनहरा मौका, इन पदों पर निकली है भर्ती

प्रशासन ( District Administration) ने रामराजा मंदिर मंदिर के गेट पर मंदिर बंद होने व कर्मचारी के परिवार के सदस्‍य के पॉजिटिव होने की सूचना चस्‍पा की है। अब केवल मंदिर केवल पूजा अर्चना के लिये पुजारी ही आ-जा सकेगे। जिला कलेक्टर की माने तो आज से 7 दिन तक यह प्रतिबंध जारी रहेगा और उसके बाद संक्रमण कम होने पर मंदिर को खोला जायेगा। ऐसे में रोजाना रामराजा के दरवार में आने वाले श्रद्धालुओं को उनके दर्शन न मिल पाने से भक्तों में मायूसी है।

निवाड़ी कलेक्टर आशीष भार्गव (Niwari Collector Ashish Bhargava) का कहना है कि जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण के अलावा रविवार मंदिर के एक कर्मचारी के परिवार की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर मंदिर को 7 दिनों तक के लिए पूर्णतया बंद कर दिया गया है, मंदिर में पूजा अर्चना के लिये केवल पुजारी ही मंदिर में आ जा सकेंगे।

यह भी पढ़े.. MP में कोरोना की रफ्तार तेज, CM शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ से मांगा सहयोग

कलेक्टर ने कहा कि आम श्रद्धालुओं के प्रवेश पर पूर्णतया रोक लगाई गई है। मंदिर को पूरी तरह से सेनेटाइज किया जा रहा है तथा मंदिर के सभी कर्मचारियां की कोरोना सैंपलिंग कराई जाएगी और संक्रमण कम होने पर ही मंदिर खोला जाएगा।अभी मंदिर खोलने जैसे वहां स्थिति नही है। इस संबंध में वहां आम सूचना भी वाकायदा जस्पा कर दी की गई है।

आपको बता दे कि ओरछा भगवान श्रीराम का देश में एकमात्र ऐसा मंदिर है जहां वह न केवल वे राजा के रूप में पूजे जाते है, बल्कि उन्हें प्रतिदिन पांचो पहर सरकारी पुलिस जवानों द्वारा गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया जाता है, जबकि यहां किसी भी विशिष्ट व अतिविशिष्ट व्यक्ति को गार्ड ऑफ ऑनर नही दिया जाता, सिवाय रामराजा सरकार के।

रामराजा मंदिर