टीकमगढ़ एसडीएम ने पूर्व विधायक के खिलाफ दर्ज कराई एफआईआर, लगाया धमकाने का आरोप

फ़िलहाल पूरे मामले को भाजपा के पूर्व विधायक (former MLA) केके श्रीवास्तव ने झूठा बताया। उन्होंने कहा अगर जनता की सेवा करना गलत है तो मैं इसे ही सही मानता हूं।

एसडीएम

टीकमगढ़, आमिर खान। टीकमगढ़ एसडीएम (SDM) ने भाजपा के पूर्व विधायक केके श्रीवास्तव पर घर में घुसकर धमकाने का आरोप लगाया है। इसी सिलसिले में टीकमगढ़ एसडीएम ने उनके खिलाफ कोतवाली में एफआईआर (FIR) दर्ज कराई। कोतवाली पुलिस (police) ने एसडीएम सौरभ मिश्रा की शिकायत के बाद पूर्व विधायक केके श्रीवास्तव और एक अन्य साथी के विरूद्ध धारा 186, 269, 270, 294, 353, 452, 506, 34 आईपीसी 51 के तहत मामला पंजीबद्ध (register) किया। फ़िलहाल पूरे मामले को भाजपा के पूर्व विधायक (former MLA) केके श्रीवास्तव ने झूठा बताया। उन्होंने कहा अगर जनता की सेवा करना गलत है तो मैं इसे ही सही मानता हूं।

यह भी पढ़ें… डॉक्टर प्रज्ञा ने 180 किलोमीटर का सफर स्कूटी से तय किया, सीएम शिवराज ने कहा गर्व है

जानकारी के अनुसार गुरुवार की रात भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधायक केके श्रीवास्तव ने एसडीएम सौरभ मिश्रा को किसी कारण कई बार फोन किया, परंतु एसडीएम ने उनका फोन नहीं उठाया। इसी बात के चलते वह उनके बंगले पहुंच गए। पूर्व विधायक केके श्रीवास्तव ने अपने एक साथी के साथ एसडीएम सौरव मिश्रा के घर में घुस कर अभद्र व्यवहार किया। पुलिस ने एसडीएम की शिकायत पर पूर्व विधायक के विरुद्ध विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया।

यह भी पढ़ें… सीबीएसई ने जारी किया 9वीं से 12वीं का नया परीक्षा पैटर्न, जानें पूरी डीटेल्स

वहीं केके श्रीवास्तव का कहना है, ‘मेरे खिलाफ झूठा मामला दर्ज हुआ। देर रात कोतवाली में ये कार्यवाही षड्यंत्र के तहत की गई है। मैंने न ही किसी को धमकाया और न ही डराया है। मैं भी जनता से जुड़ा व्यक्ति हूँ। इसलिए अधिकारियों को फोन करना और उनसे चर्चा करना आम बात है। मैंने एसडीएम को सिर्फ इतना बोला कि आप फोन उठाया करो हम लोग भी जनप्रतिनिधि हैं। अब एसडीएम ने कब और किसके कहने पर एफआईआर कराई यह वह ही बता सकते हैं।’