नरोत्तम मिश्रा का तंज- कमलनाथ प्रवासी पक्षी, 3 नवंबर के बाद उड़ जाएंगे

कमलनाथ को प्रवासी पक्षी की संज्ञा देते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि ना वह मध्य प्रदेश के हैं, ना उन्हें मध्य प्रदेश के लोगों से कोई मतलब है।

नरोत्तम मिश्रा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश(madhya pradesh) में उपचुनाव(by election) को लेकर पार्टियों का एक दूसरे पर तंज जारी है। एक तरफ जहां नेताओं पर निजी हमले हो रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ नेता विपक्षी पार्टियों के मजे लेने से भी नहीं चूक रहे हैं। इसी क्रम में अब नरोत्तम मिश्रा(Narottam mishra) ने कांग्रेस(congress) पर जमकर मजे लिए हैं। नरोत्तम मिश्रा ने आज अपने जनसंवाद में कमलनाथ(Kamalnath) पर निशाना साधते हुए कहा कि वह प्रवासी पक्षी है। 3 नवंबर के उपचुनाव के बाद मध्यप्रदेश में नजर नहीं आएंगे।

ये भी पढ़े: नरोत्तम मिश्रा का बयान – कांग्रेस लिखित में झूठ बोलती, एक भी वादा पूरा नही किया

दरअसल आज भांडेर में जनसभा को संबोधित करते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि भांडेर सहित मध्य प्रदेश में आज कांग्रेस बुरी परिस्थिति में है। उन्होंने बॉलीवुड के गाने शायराना अंदाज में कहा कि “दिल के टुकड़े हजार हुए, कुछ इधर गिरा, कुछ उधर” मध्य प्रदेश में आज कांग्रेस के परखच्चे उड़ गए हैं। कांग्रेस में अकेले कमलनाथ प्रचार कर रहे हैं। कांग्रेस के बड़े दिग्गज दिग्विजय सिंह, गोविंद सिंह चुनावी सभा से खुद को अलग रखे हुए हैं। उपचुनाव में कांग्रेस की ऐसी हालत हो गई है।

वहीं दूसरी तरफ कमलनाथ पर निशाना साधते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि 3 नवंबर को उपचुनाव की वोटिंग के बाद वह 4 नवंबर को दिल्ली निकल जाएंगे। कमलनाथ को प्रवासी पक्षी की संज्ञा देते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि ना वह मध्य प्रदेश के हैं, ना उन्हें मध्य प्रदेश के लोगों से कोई मतलब है।

राहुल पर साधा निशाना

आगे बोलते हुए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इनके पार्टी के उपाध्यक्ष कहते हैं कि अगर उनकी सरकार होती तो 15 मिनट में चीन को बाहर फेंक देते। हमें समझ नहीं आता कि कांग्रेस पार्टी इतने अच्छे चरस लाते कहां से हैं।नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पूरे देश में 40 साल तक इनकी शासन रहे। चीन को डरना चाहिए था पर ऐसा नहीं हुआ।

ये भी पढ़े: नरोत्तम मिश्रा का राहुल गांधी पर तंज, कहा – इतनी अच्छी नस्ल के नशे ये लाते कहां से है

कमलनाथ करते रहे साज़िश

आगे बोलते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि 15 महीने की कमलनाथ सरकार ने सिर्फ मुझे किसी ना किसी तरह से फंसा कर जेल भेजने की साजिश की थी। भांडेर, दतिया, सेवढा के लिए 15 महीने की कमलनाथ सरकार ने कुछ किया हो तो कोई हमें बताएं। नरोत्तम मिश्रा ने आगे कहा कि मुझे खुशी है कि 15 महीने के लिए हम सरकार से हटे थे। कम से कम जनता को तुलना करने का अवसर तो मिला कि कमलनाथ की सरकार सही थी या बीजेपी की।

निगम कानून में किया बदलाव 

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हमें झूठे केसों में फंसा कर कमलनाथ जाने-अनजाने जेल भेजने की कोशिश करते रहे। कभी हनी ट्रैप का मामला उठाया तो कभी कोई अन्य। मुझे तो भी दुख नहीं हुआ। हमें तो दुख हुआ जब हमारे नगर निगम कानून में बदलाव किया गया। उसमे ऐसी प्रक्रिया डाली गई। जो सिर्फ और सिर्फ न्यायालय की प्रक्रिया के बाद ही संभव थी। 15 महीने की कमलनाथ सरकार ने एक भी जन हितेषी कार्य नहीं किए है।

वही नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि वह एक ऐसे व्यक्ति और व्यक्तित्व हैं। जो इतिहास बदलने का काम करते हैं। जिन्होंने भारत को विश्व पटल पर ऐतिहासिक किया है।

ज्ञात हो कि उपचुनाव के लिए जनसंवाद रैली में नरोत्तम मिश्रा ने लोगों से कहा है कि वह तुलना करें। कमलनाथ और बीजेपी की सरकार में और फिर फैसला ले। बता दें कि 3 नवंबर को मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर उपचुनाव है। जिसका परिणाम 10 नवंबर को बिहार विधानसभा चुनाव के परिणाम के साथ ही घोषित होगा।