MP उपचुनाव 2020: वोटिंग से पहले शिवराज सिंह चौहान का बड़ा दावा, कांग्रेस में खलबली

उपचुनाव के परिणाम के बाद पता चलेगा कि शिवराज सत्ता में बने रहेंगे या कमलनाथ की वापसी होगी।

उपचुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya pradesh) में होने वाले 28 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव (By-elections in 28 assembly seats) के लिए प्रचार समाप्त हो गया है। इसके साथ ही कल 3 नवंबर को प्रदेश के 28 सीटों पर उपचुनाव के लिए वोटिंग की जाएगी। इससे पहले आज एक निजी चैनल (Private channel) से संवाद करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने एक तरफ जहां कमलनाथ (kamalnath) पर निशाना साधा। वहीं दूसरी तरफ ज्योतिरादित्य सिंधिया की खुलकर तारीफ की है।

दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमलनाथ ने कर्ज किसान का कर्जा माफ नहीं करने का पाप किया है। फसल बीमा का प्रीमियम (insurance premium) जमा नहीं किया। इसके साथ ही साथ किसान सम्मान निधि के लिए किसानों के नाम की सूची केंद्र को नहीं भेजी है। विवाह योजना का ढेला बेटियों को नहीं दिया। इसके साथ ही सीएम शिवराज ने कहा कि पापों कि सूची बहुत लंबी है।

Read More: MP BOARD : दिवाली बाद खोले जा सकते है स्कूल, मंडल ने शिक्षा मंत्री को लिखा पत्र

दूसरी तरफ सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को जनता का अभूतपूर्व प्यार मिल रहा है। वहीं उन्होंने दावा किया है कि इसलिए इस चुनाव में भी हम भारी मतों से विजय का वरण करने का जा रहे हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya scindia) की तारीफ करते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सिंधिया जी बहुत लोकप्रिय नेता हैं। उन्होंने इस उपचुनाव में बीजेपी के लिए जमकर मेहनत की है। वहीं सीएम शिवराज ने उम्मीद जताई है कि बीजेपी को सिंधिया का फायदा होगा। हमें इस उपचुनाव में शानदार जीत मिलेगी।

नेताओं को सदैव मर्यादित रहना चाहिए- सीएम शिवराज

दूसरी तरफ अमर्यादित टिप्पणी पर बोलते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि अपशब्दों के प्रयोग से वोट नहीं बढ़ते हैं। इससे आपके समर्थक तालियां बजा सकते हैं, लेकिन जनता गाली-गलौज की भाषा को पसंद नहीं करती है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि नेताओं को सदैव मर्यादित रहना चाहिए।

कट्टरवाद और लव जिहाद के लिए मध्यप्रदेश में कोई जगह नहीं – शिवराज सिंह चौहान

वहीं भोपाल में हो रहे फ्रांसीसी राष्ट्रपति के विरोध पर बोलते हुए शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हम किसी भी कीमत पर कानून तोड़ने वालों को बर्दाश्त नहीं करेंगे। भोपाल में उन्माद पैदा करने की कोई जुर्रत नहीं कर सकता है। वहीं सीएम ने कहा कि किसी ने अगर कट्टरता फैलाने की कोशिश की तो वह सजा भुगतने के लिए तैयार रहे। वहीं सीएम शिवराज ने बताया कि फ्रांस के समर्थन में भोपाल में हुए प्रदर्शन पर हमने दोषी व्यक्तियों के विरुद्ध आईपीसी की धारा 188 के तहत मामला दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की है। किसी दोषी को बख्शा नहीं जायेगा। कट्टरवाद और लव जिहाद के लिए मध्यप्रदेश में कोई जगह नहीं है।

बता दें कि 3 नवंबर को मतदान होने है। वहीं 10 नवंबर को परिणाम घोषित किए जाएंगे। इससे पहले सोमवार शाम 6 बजे उपचुनाव के लिए प्रचार अभियान थम गया है। अब उपचुनाव के परिणाम के बाद पता चलेगा कि शिवराज सत्ता में बने रहेंगे या कमलनाथ की वापसी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here