कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज, 34% डीए से सैलरी में आएगा उछाल, जानें बेसिक पे पर कितना मिलेगा लाभ

अगर किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 18,000 रुपये है तो कुल सालाना DA 73,440 रुपये होगा लेकिन सैलरी में सालाना इजाफा 6,480 रुपये होगा।

epfo salary limit

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। 7th Pay Commission: 2022 में केन्द्रीय कर्मचारियों-पेंशनरों (central employees pensioners ) का कुल महंगाई भत्ता और महंगाई राहत 34% हो गया है। हाल ही में मोदी सरकार द्वारा 3% बढ़ोतरी के बाद केन्द्रीय कर्मचारियों का कुल महंगाई भत्ता और राहत 31% से बढ़कर 34% (DA/DR Hike) हो गया है।इसका लाभ कर्मचारियों को 1 जनवरी 2022 से मिलेगा और अप्रैल महीने से ही सैलरी बढ़कर आएगी।अच्छी खबर ये है कि इस महंगाई भत्ते का कैलकुलेशन बेसिक पे पर होगा। जितनी बेसिक पे होगी उतना ही डीए का फायदा मिलेगा।

यह भी पढ़े.. MP Board: 10वीं के छात्रों के लिए बड़ी खबर, जल्द लागू होगा ये नया पैटर्न! मिलेंगे 2 विकल्प

वही जनवरी, फरवरी और मार्च का एरियर भी दिया जाएगा, हालांकि इसका भुगतान मई की सैलरी में होगा।ध्यान देने वाली बात ये है कि महंगाई भत्ते का कैलकुलेशन कर्मचारियों के बेसिक पे पर किया जाता है। डीए के कैलकुलेशन में किसी दूसरे अलाउन्स को शामिल नहीं किया जाता है। इसका मतलब है कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों के हाथ में जो बढ़ी हुई सैलरी आएगी, उसमें सिर्फ बेसिक पे पर बढ़ा हुआ डीए शामिल होगा। हाल ही में वित्त मंत्रालय के डिपार्टमेंट ऑफ एक्सपेंडिचर द्वारा नोटिफिकेशन के पाइंट नंबर 2 और 3 में इसे स्पष्ट किया गया था।

आसान शब्दों में समझें तो रिवाइज्ड पे स्ट्रक्चर में ‘बेसिक पे’ का मतलब वह पे है जो पे मेट्रिक्स में प्रस्तावित लेवल के हिसाब से मिलता है।इसका लाभ 50 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों मिलेगा।  खास बात ये है कि 3 प्रतिशत बढ़ोतरी के बाद कुल महंगाई भत्ता 34% हो गया है यानि  9 महीने में केन्द्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता डबल हुआ है।वही  अप्रैल की सैलरी आने के बाद तीन महीने यानी जनवरी, फरवरी और मार्च का एरियर भी केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स के खाते में ट्रांसफर होगा।

9 महीने में डीए डबल

पिछले 9 महीनों में केंद्रीय कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को मिलने वाला डीए और डीआर डबल हुआ है।जुलाई 2021 में महंगाई भत्ता 17 प्रतिशत पर था, इसके बाद सरकार ने जुलाई महीने में डीए में 11 फीसदी बढ़ोतरी की थी,जिसके बाद कुल डीए 28 प्रतिशत हो गया था और फिर नवंबर में 3 फीसदी का फिर इजाफा होने से यह 31 फीसदी हो गया और अब मार्च में मोदी सरकार के ऐलान के बाद यह 34 फीसदी हो गया है, इस तरह केंद्रीय कर्मचारियों को मिलने वाला DA पिछले 9 महीने में ही डबल हो गया।इसका लाभ अप्रैल की सैलरी में मिलना शुरू हो गया है, हालांकि एरियर का भुगतान मई की राशि के साथ किया जाएगा।

ऐसे समझें पूरा कैलकुलेशन

  • केंद्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी 18,000 रुपए से 56,900 रुपए के बीच होती है, ऐसे में DA 34% होने पर 18,000 रुपये प्रति माह सैलरी वाले कर्मचारी को 6120 रुपये प्रति माह/ सालाना 6,480 रुपए और 56000 सैलरी वाले का सालाना डीए 20,484 रुपए होगा।
  • उदारण के तौर पर, अगर किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 18,000 रुपये है तो कुल सालाना DA 73,440 रुपये होगा लेकिन सैलरी में सालाना इजाफा 6,480 रुपये होगा।
  • इसके अलावा 56,900 रुपये बेसिक सैलरी वाले कर्मचारी की बेसिक सैलरी 19346 रुपये/माह भत्ते के हिसाब से सैलरी में 232,152 रुपये का इजाफा होगा।
  • कर्मचारी का बेसिक पे 18,500 रुपए है तो उसे 34% के हिसाब से 6290 रुपए का DA मिलेगा यानि ग्रॉस सैलरी में 555 रुपए की बढ़ोतरी हुई है।अधिकतम सैलरी स्लैब वाले कर्मचारियों का डीए बढ़कर 19346 रुपये प्रति माह हो जाएगा।

न्यूनतम बेसिक सैलरी पर कैलकुलेशन

  • बेसिक सैलरी- 18,000 रुपये
  • नया महंगाई भत्ता (34%)- 6120 रुपये/महीने
  • कुल नया महंगाई भत्ता (34%)- 73,440 रुपये/सालाना
  • अब तक महंगाई भत्ता (31%)- 5580 रुपये/महीने
  • कितना महंगाई भत्ता बढ़ा- 6120- 5580 = 540 रुपये/महीने
  • मई में कितना मिलेगा- 540X4= 2,160 रुपये
  • सालाना सैलरी में इजाफा- 540X12= 6,480 रुपये

अधिकतम बेसिक सैलरी पर कैलकुलेशन

  • बेसिक सैलरी- 56,900 रुपये
  • नया महंगाई भत्ता (34%)- 19,346 रुपये/महीने
  • नया महंगाई भत्ता (34%)- 232,152 रुपये/सालाना
  • अबतक महंगाई भत्ता (31%)- 17639 रुपए/महीने
  • कितना महंगाई भत्ता बढ़ा- 19346-17639= 1,707 रुपये/महीने
  • मई में कितना मिलेगा- 1,707 X4= 6,828 रुपये
  • सालाना सैलरी में इजाफा- 1,707 X12= 20,484 रुपये