कर्मचारियों को जनवरी के वेतन में मिलेगा तोहफा, 4500 रूपए बढ़कर आएगी राशि! जाने कैसे करे क्लेम

कर्मचारी वाउचर भरकर इसके लिए पात्र होंगे।

7th pay commission DA Arrears

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। केंद्रीय कर्मचारी (central Employees) को नए वर्ष (New year 2022) में वेतन वृद्धि (increment) के लाभ सहित कई अन्य तरह के लाभ दिए जा सकते हैं। दरअसल केंद्र सरकार के कर्मचारियों को फरवरी महीने से बढ़ा हुआ वेतन (salary) मिल सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 7th pay commission कर्मचारियों को उनके जनवरी 2022 के वेतन के साथ कुछ अतिरिक्त राशि मिलने वाली है।

चर्चाओं की माने तो केंद्र सरकार द्वारा इसकी तैयारी की जा रही है। फरवरी माह के वेतन में कर्मचारियों को बढ़ी हुई राशि का लाभ दिया जाएगा। इस संबंध में एक घोषणा गणतंत्र दिवस, 26 जनवरी, 2022 को किए जाने की उम्मीद है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार 7th pay commission कर्मचारियों को उनके जनवरी के Salary के साथ 4500 रुपये अतिरिक्त मिलेंगे। कर्मचारी CEA वाउचर भरकर इसके लिए पात्र होंगे।

Read More : MP में लॉकडाउन और बाजार बंद पर नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान, बोले गृह मंत्री- रहे सचेत

कर्मचारी 4,500 रुपये का दावा कैसे कर सकते हैं?

बाल शिक्षा भत्ता (CEA) उन भत्तों में से एक है जो केंद्र अपने कर्मचारियों को देता है। कोरोना महामारी के बीच, कर्मचारियों को छूट देते हुए केंद्र सरकार जनवरी 2022 के वेतन के साथ CEA दावा की अनुमति दे रही है। इसके लिए किसी आधिकारिक दस्तावेज की जरूरत नहीं है।

7वें वेतन आयोग के तहत केंद्रीय कर्मचारियों को 2250 रुपये का CEA मिलता है। Corona के दूसरी लहर के बीच स्कूल बंद थे।जिसके बाद केंद्र ने अब अपने कर्मचारियों को बिना किसी दस्तावेज के सीईए का दावा करने की अनुमति दी है। सरकारी कर्मचारियों को 2 बच्चों की शिक्षा के लिए भत्ता दिया जाता है। इसलि यदि किसी कर्मचारी के दो बच्चे हैं, तो कर्मचारी के खाते में 4500 रुपये प्राप्त होंगे।

इस बीच केंद्र सरकार के कर्मचारी को जल्द ही कुछ अच्छी खबर मिलने वाली है। 18 माह के बकाए महंगाई भत्ते (Outstanding DA Arrears) पर भी बड़ा फैसला ले सकती है। माना जा रहा है कि इस साल केंद्रीय कर्मचारियों को 18 महीने के महंगाई भत्ते का भुगतान किया जा सकता है। हालांकि इसके लिए एकमुश्त वेतन भुगतान की मांग की जा रही है। जिसपर फिलहाल अभी तक केंद्र सरकार की तरफ से कोई फैसला नहीं लिया गया है। इस संबंध में एक घोषणा जनवरी 2022 में किए जाने की उम्मीद है।