आखिर कहाँ से और कैसे आया कोरोना, इसकी दोबारा जांच शुरू करेगा डब्ल्यूएचओ, एक्स्पर्ट्स की बनाई नई टीम

दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। पूरे दुनिया में कहर मचानें वाले कोरोना ने अभी भी लोगो को राहत की सांस नही लेने दी है। दूसरी लहर ने लाखों लोगों को अपना शिकार बनाया,और अब तीसरी लहर के अंदेशे ने लोगो को परेशान कर दिया है। आखिर यह कोरोना वायरस आया कहा से, अभी भी इस पर कोई पुख्ता जानकारी सामने नही आई है, एक बार फिर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) एक नई टीम को साथ कोरोना की उत्पत्ति की दोबारा जांच शुरू करने जा रहा है। इसके लिए 20 वैज्ञानिकों की टीम बनाई गई है, इस नई टीम में एक से बढ़कर एक एक्सपर्ट को शामिल किया गया है, जो चीन और अन्य जगहों की जांच करेगी। इस नए जांच दल के जरिए डब्ल्यूएचओ कोविड-19 की उत्पत्ति की जांच फिर से शुरू करने के लिए तैयार है। इस टीम में प्रयोगशाला सुरक्षा, जैव सुरक्षा के विशेषज्ञ, आनुवंशिकीविद् और पशु-रोग विशेषज्ञ शामिल हैं, जो इस बात के जानकार है कि वायरस प्रकृति से कैसे फैलते हैं।

मप्र राज्यसभा चुनाव : एल मुरुगन बने राज्यसभा सांसद, रिटर्निंग ऑफिसर ने की घोषणा

एक्सपर्ट्स की यह टीम चीन और अन्य जगहों पर नए सबूतों की तलाश करेंगे। इससे पहले डब्ल्यूएचओ-चीन की एक संयुक्त जांच टीम ने इस साल मार्च में इस  संभावना को सिरे से नकार दिया था कि वायरस किसी प्रयोगशाला से बाहर आया था। जुलाई में महानिदेशक टेड्रोस अदनोम ने इस रिपोर्ट को कमतर आंकते हुए वुहान में अध्ययन के दूसरे चरण का प्रस्ताव रखा था, जिसमें वुहान शहर में प्रयोगशालाओं और बाजारों का आडिट भी शामिल है।

Khandwa News : लोकायुक्त के जाल में फंसा पटवारी, किसान से रिश्वत लेते गिरफ्तार

हालांकि, चीनी वैज्ञानिकों ने डब्ल्यूएचओ को मैरीलैंड के फोर्ट डेट्रिक में यूएस आर्मी मेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट आफ इंफेक्शियस डिजीज सहित अन्य देशों में कोविड -19 की उत्पत्ति की जांच का विस्तार करने के लिए भी कहा है।देखना होगा कि अब क्या चीन इस नई टीम को देश में एक बार फिर जांच की अनुमति देगा।