लाखों कर्मचारियों-पेंशनरों को बड़ा तोहफा, शुरू हुई ये खास सुविधा, जुलाई से मिलेगा लाभ

राज्य कर्मचारी और पेंशनर या उनके परिवारीजन निजी अस्पतालों में भी पांच लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त करा सकेंगे।

railway EMPLOYES
demo pic

लखनऊ, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने राज्य के लाखों सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों (UP Employees and Pensioners ) को रक्षाबंधन से पहले बड़ा तोहफा दिया है। योगी सरकार ने आज 21 जुलाई से राज्य में कैशलेस इलाज की सुविधा लागू कर दी है। इसके लिए 10 करोड़ रुपये की पहली किस्त जारी कर दी गई है। अब हेल्थ कार्ड दिखाकर सरकारी कर्मी व उनके परिजन सरकारी अस्पताल व योजना से सम्बद्ध अस्पताल में मुफ्त इलाज करा सकेंगे।

यह भी पढ़े.. हाईकोर्ट का अहम फैसला, सेवानिवृत्ति पर कर्मचारी को दी बड़ी राहत, वेतन भुगतान के आदेश

दरअसल, उत्तर प्रदेश के 22 लाख से अधिक सरकारी कर्मचारियों के साथ ही पेंशनर्स को गुरुवार को कैशलेस इलाज का तोहफा दिया है। लोकभवन में गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के अंतर्गत 22 लाख से अधिक सरकारी कर्मचारियों को कार्ड प्रदान करने की योजना का शुभारंभ किया। इस योजना से करीब 22 लाख राज्य कर्मचारियों के अलावा, पेंशनर्स एवं उनके आश्रितों को मिलाकर करीब 75 लाख लोग लाभान्वित होंगे।

इसके तहत कर्मचारियों को हेल्थ कार्ड मिलेगा, जिससे वे सरकारी और प्राइवेट अस्पताल में फ्री इलाज करा सकेंगे। राज्य कर्मचारी और पेंशनर या उनके परिवारीजन निजी अस्पतालों में भी पांच लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त करा सकेंगे। वहीं सरकारी संस्थानों में खर्च की कोई समयसीमा नहीं होगी और सरकार पहले भुगतान करके रिंबर्समेंट लेने की पुरानी व्यवस्था भी खत्म नहीं करेगी। इसके अलावा कई महंगी जांचें और बीमारियों का इलाज भी अब आयुष्मान योजना की जद में आने से लोगों को बड़ी सुविधा मिल सकेगी।

यह भी पढ़े.. CG Weather: मानसून द्रोणिका का असर, 24 जुलाई तक जारी रहेगा वर्षा का दौर, 2 दर्जन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट, जानें अपडेट

योजना का लाभ देने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने वेबसाइट sects.up.gov.in पर सरकारी कर्मियों और पेंशनरों का पंजीकरण भी शुरू कर दिया है। इसके लिए चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग को 100 करोड़ का फंड मिलेगा। आयुष्मान योजना से संबद्ध अस्पतालों में ही इन्हें कैशलेस इलाज मिलेगा।स्वास्थ्य विभाग द्वारा अपने सौ दिन के एजेंडे में शामिल किया गया है। कैशलेस चिकित्सा सुविधा पाने के लिए हेल्थ कार्ड बनवाने के लिए वेबसाइट sects.up.gov.in के माध्यम से आवेदन किया जा सकेगा।