बेंगलुरु। हमेशा अपने बयानों से विवादों मं रहने वाले बीजेपी विधायक एम.पी. रेणुकाचार्य ने फिर विवादित बयान दिया है। विधायक ने मस्जिद और मुस्लिमों को लेकर टिप्पणी की है।उनका कहना है कि मुस्लिम मस्जिदों में हथियार इकट्ठा करते रखते हैं। वही उन्होंने धमकी देते हुए कहा कि वे मुस्लिमों को उनकी जगह बताकर रहेंगे और दिखाकर रहेंगे कि राजनीति क्या है। विधायक के इस बयान के बाद सियासी गलियारों में बवाल मच गया है, कई तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं, सोशल मीडिया पर भी बयान की कड़ी आलोचना हो रही है। वही बीजेपी ने भी इस बयान की निंदा की है और वापस लेने को कहा है।

दरअसल, सोमवार को देवनागरे के होनाली में नागरिकता कानून के समर्थन में एक रैली बुलाई गई थी।जिसमें कर्नाटक के देवनागरे जिले से भारतीय जनता पार्टी के विधायक एम.पी. रेणुकाचार्य ने विवादित बयान दे दिया। विधायक ने विपक्षी पार्टियों को निशाने पर लेते हुए उन्होंने मुस्लिम समुदाय के लोगों के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया।बीजेपी विधायक ने कहा यहां कुछ देशद्रोही हैं. तुम लोग मस्जिद में बैठते हो और फतवे लिखते हो? मस्जिद में क्या है? क्या आप वहां नमाज करते हो? नमाज की जगह वहां पर हथियार इकट्ठे किए जाते हैं, क्या इसलिए मस्जिद चाहते हो?

विधायक ने आगे कहा कि अगर तुम्हें ऐसा ही करना है तो ठीक है, मैं अपनी राजनीति करता रहूंगा’।मैं मुसलमानों के लिए अलॉट हुए बजट का इस्तेमाल हिंदुओं के काम के लिए खर्च करने से भी बिल्कुल नहीं हिचकूंगा। उन्होंने कहा मैं तालुका में मुसलमानों के लिए अलॉट हुए पैसों का इस्तेमाल हिंदुओं के काम के लिए करूंगा।

रेणुकाचार्य के बयान के बाद से राजनीतिक खेमे की सरगर्मी बढ़ गई हैं। वह मौजूदा मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के पॉलिटिकल सेक्रटरी भी हैं। साथ ही उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा भी दिया गया है। इससे पहले भी ये विधायक काफी सुर्खियां बटोर चुके हैं। कुछ वक्त पहले रेणुकाचार्य की कुछ किसिंग तस्वीरें जारी की गई थी, जिसपर काफी बवाल हुआ था।