KGF 2 का गाना इस्तेमाल करना कांग्रेस को पड़ा भारी, Rahul Gandhi सहित 2 नेताओं पर केस दर्ज

भारत जोड़ो यात्रा की वीडियो में KGF 2 का गाना इस्तेमाल किए जाने के चलते राहुल गांधी सहित दो अन्य नेताओं पर कॉपीराइट उल्लंघन के मामले में केस दर्ज किया गया है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और 2 अन्य नेताओं को बिना अनुमति के साउथ के सुपरस्टार यश की हिट मूवी केजीएफ चैप्टर 2 (KGF 2) का गाना वीडियो में उपयोग करना महंगा पड़ गया है। राहुल सहित सुप्रिया श्रीनेत और जयराम रमेश के खिलाफ बेंगलुरु की एक म्यूजिक लेबल एमआरटी म्यूजिक ने कॉपीराइट उल्लंघन मामले में केस दर्ज करवाया है। इस वक्त राहुल गांधी देश भर में भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) निकाल रहे हैं और कांग्रेस की तरफ से लगातार उनकी तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है।

इसी तरह की एक वीडियो में केजीएफ चैप्टर 2 के गाने का इस्तेमाल किया गया है। इस वीडियो को लेकर म्यूजिक लेबल का आरोप है कि कांग्रेस ने बिना मंजूरी लिए इस गाने का इस्तेमाल किया है। राहुल गांधी इस वीडियो में दिखाई दे रहे हैं इसलिए उन पर केस किया गया है। इसके अलावा सुप्रिया श्रीनेत और जयराम रमेश का नाम भी इस केस में सामने आया है। बेंगलुरु के यशवंतपुर पुलिस स्टेशन में यह केस दर्ज करवाया गया है। पुलिस ने धारा 465, 403, 120 और 34 के तहत केस दर्ज करते हुए, इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी एक्ट और कॉपीराइट एक्ट 1957 के अंतर्गत आने वाली धाराओं में यह पूरा केस तैयार किया है।

 

Must Read- एसपी ने रोक दी अपर कलेक्टर की गाड़ी, ड्राइवर की दी समझाइश, स्कूली बच्चों के साथ चलाया जागरूकता अभियान

म्यूजिक लेबल एमआरटी के वकील का कहना है कि इस तरह से वीडियो में गाने का उपयोग करना गैरकानूनी और अवैध है। कांग्रेस ने अवैध तरीके से गाने को डाउनलोड कर इस वीडियो को तैयार कर ब्रॉडकास्ट किया है। वीडियो में गाने को इस तरह दर्शाया जा रहा है जैसे कि इस गाने पर कांग्रेस का मालिकाना हक है। इसके साथ भारत जोड़ो यात्रा का लोगो भी वीडियो में इस्तेमाल किया गया है और कांग्रेस के सोशल मीडिया हैंडल से इसे शेयर किया गया है। एक मीडिया एजेंसी से बात करते हुए वकील ने यह भी बताया है कि कंपनी ने अपने अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए कॉपीराइट से संबंधित शिकायत दर्ज करवाई है। किसी भी राजनीतिक पार्टी की छवि को खराब करने की कंपनी कोई भी कोशिश नहीं कर रही है।