केंद्र के खिलाफ दिल्ली में कांग्रेस का बड़ा प्रदर्शन, मप्र से पहुंचे हजारों कांग्रेसी

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ आज कांग्रेस बड़ा प्रदर्शन कर रही है| मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री, मंत्री, विधायक,  समेत देश भर से हजारों की संख्या में कांग्रेस रामलीला मैदान पहुंचे हैं| इस रैली में सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ ही पार्टी के अन्य दिग्गज नेता भी शामिल हैं। कांग्रेस सरकार को आर्थिक मंदी, महिला हिंसा, किसान विरोधी नीतियों, बेरोजगारी के साथ ही संविधान पर हमले के मुद्दे को उठाते हुए सरकार पर हमलावर रुख अपना रही है। रैली के दौरान इन सभी मुद्दों के खिलाफ कांग्रेस अपनी आवाज बुलंद करेगी।

केंद्र सरकार के खिलाफ कांग्रेस की ओर से आयोजित भारत बचाओ महारैली में शामिल होने मध्यप्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा और शहर कांग्रेस अध्यक्ष कैलाश मिश्रा कार्यकर्ताओं के साथ जनरल बोगी में बैठकर आज सुबह दिल्ली पहुंचे। वे शुक्रवार शाम 4 बजे हबीबगंज स्टेशन से विशेष ट्रेन से कांग्रेस कार्यकर्ताओं को लेकर दिल्ली रवाना हुए। मंत्री और अध्यक्ष के कार्यकर्ताओं के साथ जाने से कार्यकर्ताओं का उत्साह कई गुना बढ़ गया।

पीसी शर्मा ने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार गैर भाजपा शासित राज्यों के साथ भेदभाव पूर्ण व्यवहार कर संघीय ढांचे को नष्ट करने का प्रयास कर रही है। भाजपा विकास और आम आदमी से जुड़े मुद्दों से पूरी तरह भटक चुकी है। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश आर्थिक रूप से खोखला हो चुका है। अब भारत बचाने के लिए देश की जनता कांग्रेस की ओर आशा भरी नजर से देख रही है। शर्मा ने कहा कि 14 दिसंबर को दिल्ली में आयोजित रैली केंद्र की भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने में मील का पत्थर साबित होगी।