पेंशनर्स के लिए खुशखबरी, इतनी बढ़ सकती है पेंशन, जानें क्या है नई अपडेट

इसके साथ ही 2021-22 के लिए पेंशन फंड की ब्याज दर पर भी फैसला हो सकता है।

पेंशन

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। नए साल से पहले पेंशनरों के लिए पेंशन (Pension) को लेकर बड़ी खबर है। केंद्र की मोदी सरकार एम्‍प्‍लॉई प्रॉविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन (EPFO) के पीएफ खाताधारकों की न्यूनतम पेंशन की राशि 3000 तक बढ़ा सकती है। खबर है कि इस संबंध में ईपीएफओ के सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी नवंबर अंत में बैठक करने वाले है, जिसमें इस बड़े फैसले को हरी झंडी दी जा सकती है, ऐसे हुआ तो पेंशन में बढ़ोतरी आगामी साल से पहले पेंशनरों के लिए बड़ी राहत साबित होगी।

यह भी पढ़े.. MP Job Alert 2021: 10वीं पास के लिए इन पदों पर निकली है भर्ती, अच्छी सैलरी, जल्द करें अप्लाई

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने न्यूनतम पेंशन (Minimum Pension) को बढ़ाकर 6,000 रुपये करने की मांग की है, ऐसे में माना जा रहा है कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी (CBT Meeting ) इसे 3,000 रुपये तक इसे बढ़ा सकती है, हालांकि अभी फैसला होना बाकी है। इस संबंध में 16 नवंबर को बैठक होनी थी, जिसे आगे बढ़ा दिया है, फिलहाल इस पर विचार चल रहा है। इसके साथ ही 2021-22 के लिए पेंशन फंड की ब्याज दर पर भी फैसला हो सकता है।

यह भी पढ़े.. Video : जब सिंधिया ने पूछा “क्या बना है मुन्ना लाल जी” और थाम ली प्लेट

माना जा रहा है कि ईपीएफ में जमा रकम पर 8.5 फीसदी की मौजूदा ब्याज दर जारी रह सकता है। मौजूदा ब्याज दर में कोई बदलाव होने की संभावना कम है।इससे पहले CBT की आखिरी बैठक मार्च में श्रीनगर में हुई थी, जिसमें सीबीटी ने 2020-21 के लिए सदस्यों के खातों में PF जमा राशि पर 8.5 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दर देने की सिफारिश की थी,जिसे हाल ही में वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) ने मंजूरी दी है और इसका लाभ 6.5 करोड़ खाताधारकों को मिलना शुरु हो गया है।