बर्ड फ्लू

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। बर्ड फ्लू (Bird flu) से मौत का मामला सामने आया है। हरियाणा के 11 साल के लड़के की दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में H5N1 वायरस से मौत हो गई। इसे ‘एवियन इन्फ्लूएंजा’ या ‘बर्ड फ्लू’ भी कहा जाता है। माना जा रहा है कि भारत में मनुष्य के बीच H5N1 ((H5N1 avian influenza)) का पहला मामला है, इसी के साथ देश में इस साल बर्ड फ्लू से हुई यह पहली मौत है। पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) की एक रिपोर्ट में H5N1 संक्रमण की पुष्टि हुई है।

नगर निगम के अकाउंटेंट के यहां लोकायुक्त का छापा, नगदी जेवर और बेहिसाब संपत्ति के सबूत मिले

सुशील नाम के 11 वर्षीय लड़के को निमोनिया और ल्यूकेमिया हुआ था और उसे 2 जुलाई को भर्ती किया गया था। उसकी मौत के बाद उसके संपर्क में आए अस्पताल के सभी कर्मचारियों को आइसोलेशन में रखा गया है। कोरोना की दूसरी लहर के बाद तीसरी लहर के खतरे के बीच केरल में जीका वायरस के मामलों ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। वहीं अब अब बर्ड फ्लू से हुई मौत के बाद एक नई चुनौती सामने आ गई है। फिलहाल सुशील की मौत के बाद हरियाणा स्थिति उसके गांव में H5N1 के और मामलों की जांच करने और कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के लिए नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल की एक टीम को भेजा गया है।